Jaun Elia Shayari in hindi | जौन एलिया शायरी

जौन एलियाकी प्रसिद्ध कविता,jaun elia famous shayari in hindi,john elia love shayari in hindi,poetry of john aleya,शायरी प्रस्तुत कर रहे है। पाठको को इसको पढ़ने में मजा आएगा

उनकी शायरी पढ़ने से पहले उनके जीवन के बारे में थोड़ा जान लेते हैं

Jaun Elia biography in hindi |जौन एलिया की जीवनी

सैयद सिबत-ए-असग़र नकवी, जिसे आमतौर पर जौन एलिया के नाम से जाना जाता है, एक पाकिस्तानी उर्दू कवि, दार्शनिक, जीवनी लेखक और विद्वान थे। उनका जन्म 14 दिसंबर 1931  को हुआ था . वह उर्दू, अरबी, अंग्रेजी, फारसी, संस्कृत और हिब्रू में निपुण थे।

जौन एलिया प्रमुख आधुनिक पाकिस्तानी कवियों में से एक थे , अपने अपरंपरागत तरीकों के लिए लोकप्रिय थे. उन्होंने दर्शन, तर्क, इस्लामी इतिहास, मुस्लिम सूफी परंपरा, मुस्लिम धार्मिक विज्ञान, का ज्ञान प्राप्त किया था

उन्होंने 8 साल की उम्र में कविता लिखना शुरू कर दिया था, लेकिन 60 साल की उम्र में उन्होंने अपना पहला संग्रह शायद प्रकाशित किया।उन्होंने 1970 में लेखक ज़ाहिदा हिना से शादी की और वे 1992 में अलग हो गए। उनका देहांत 8 नवंबर 2002 को हुआ था

Jaun Elia hindi | जौन एलिया शायरी

jon elia hoon pdf download, 23 march bhagat singh shayari, ahmad faraz poetry in hindi, ahmad faraz rekhta, ahmad faraz shayari, allama iqbal shayari, bashir badr poetry in hindi, bestshayari in images, gulzar shayari, jaun, jaun alia, jaun elia 2 line shayari, jaun elia 2 line shayari hindi, jaun elia 2 line shayari in english, jaun elia 2 line shayari in urdu, jaun elia books in hindi pdf download, jaun elia famous shayari in hindi, jaun elia kavita kosh, jaun elia quotes in english, jaun elia rekhta, jaun elia rekhta hindi, jaun elia sad shayari in hindi, jaun elia sharab shayari, jaun elia shayari, jaun elia shayari in hindi pdf, jaun elia shayari pdf
Jaun Elia Shayari

Bahut najdik aati jaa rahi ho
Bichadne ka irada kar liya kya

jaun elia quotes in hindi

उस गली ने ये सुन के सब्र किया
जाने वाले यहाँ के थे ही नहीं

Us ki gali ne ye sun ke sabr kiya
Jaane wale yahan ke the hi nahi

john elia shayari
john elia love shayari in hindi

Bina tumhare kabhi nahi aayi
Kya meri neend bhi tumhari hai

jaun elia poetry hindi

जो गुज़ारी न जा सकी हम से
हम ने वो ज़िंदगी गुज़ारी है
Jo gujari naa jaa saki hamse
Hamne wo jindagi gujari hai

jaun elia sher, jaun elia wiki, jaun eliya, jaun eliya rekhta, jaun eliya shayari, jaun poetry, jhon eliya, john alia, john aliya, john elia love shayari in hindi, john elia poetry in english, john elia rekhta, john eliya, johny jhony poem, jon elia poetry, joun elia, joun elia poetry, june elia, junooniyat shayari, khoon thookna jaun elia, kitne aish udate honge jaun elia, kya kaha ishq kar baithe jaun elia, main jo hoon
jaun elia quotes hindi

Ik ajab haal hai ki ab usko
Yaad karna bhi bewafai hai

jaun elia famous shayari in hindi

उन से वादा तो कर लिया लेकिन
अपनी कम-फ़ुर्सती को भूल गया
Unse wada toh kar liya lekin
Apni kam fursati ko bhul gaya

हम जी रहे हैं कोई बहाना किए बग़ैर
उस के बग़ैर उस की तमन्ना किए बग़ैर
Hum ji rahe hai koi bahana kiye bagair
Us ke bagair us ki tamanna kiye bagair

john elia shayari hindi

ऐ क़ातिलों के शहर बस इतनी ही अर्ज़ है
मैं हूँ न क़त्ल कोई तमाशा किए बग़ैर
Aae kaatilon ke shaher bas itni se arj hai
Mai hu naa katl koi tamasha kiye bagair

Jaun Elia Shayari,nida fazli shayari, nida fazli shayari in hindi, poetry jaun elia, poetry of jaun elia, rahat indori sher, rekhta jaun elia, roop jaun elia
jaun elia hindi poetry

Khud ko bhula hu usko bhula hu
Umar bhar ki yahi kamai hai

john elia best shayari in hindi

ज़ब्त कर के हँसी को भूल गया
मैं तो उस ज़ख़्म ही को भूल गया

Jabt karke us hansi ko bhul gaya
Mai toh us jakhm hi ko bhul gaya

Jaun Elia Shayari
john elia best poetry in hindi

Meri jaan ab ye surat hai ki mujhse
Teri aadat chudai jaa rahi hai

एक ही तो हवस रही है हमें
अपनी हालत तबाह की जाए 

john elia best shayari in hindi

Jabt karke us hansi ko bhul gaya
Mai toh us jakhm hi ko bhul gaya

काम की बात मैं ने की ही नहीं
ये मेरा तौर-ए-ज़िंदगी ही नहीं
Kaam ki baat maine ki hi nahi
Ye mera taur e jindagi hi nahi

john elia quotes in hindi

कौन से शौक़ किस हवस का नहीं
दिल मेरी जान तेरे बस का नहीं
Kaun se shauk kis hawas ka nahi
Dil meri jaan tere bas ka nahi

इलाज ये है कि मजबूर कर दिया जाऊँ
वगरना यूँ तो किसी की नहीं सुनी मैंने
Ilaaz ye hai ki majboor kar diya jaaun
Warna yu toh kisi ke nahi suni maine

john elia shayari hindi

Jaun Elia Shayari
jaun elia best shayari in hindi

Ye mujhe chain kyu nahi padta
Ek hi shaks tha jahan me kya

कोई नहीं यहां खामोश, कोई पुकारता नहीं
शहर में एक शोर है और कोई सदा नहीं
Koi nahi yahan khaamosh,koi pukarta nahi
Shahar me ek shor hai aur koi sada nahi

jaun elia hindi shayari

अब हमारा मकान किस का है
हम तो अपने मकां के थे ही नहीं
Ab hamara makaan kiska hai
Hum toh apne makaan ke the hi nahi

हम आंधियों के बन में किसी कारवां के थे
जाने कहां से आए थे, जाने कहां के थे
Hum aandhiyon ke ban me kisi karwan ke the
Jaane kahan se aaye the ,jaane kahan ke the

hindi shayari in english jon elia

john elia best shayari hindi,
john elia sher hindi,
best shayari of jaun elia in hindi,
jaun elia 2 line shayari in hindi,
jaun elia two line shayari
jaun elia love shayari in hindi.john elia sher in hindi
tum meri akhri mohabbat ho jaun elia in hindi,
jaun elia shayari in hindi pdf,
jaun elia ghazal hindi,
jaun elia hindi sher,
john elia sad shayari in hindi,
shayari by jaun elia in hindi

Aur toh hamne kya kiya ab tak
Ye kiya hai ki din gujare hain

jaun elia sher in hindi

कभी-कभी तो बहुत याद आने लगते हो
कि रूठते हो कभी और मनाने लगते हो
Kabhi kabhi toh bahut yaad aane lagte ho
Ki ruthte ho kabhi aur maanaane lagte ho

waseem barelvi shayari in hindi – वसीम बरेलवी शायरी

पाठको हमने वसीम बरेलवी की मशहूर शायरी संग्रह -waseem barelvi shayari in hindi लेके आये हैं. उनकी शायरी पढ़ने से पहले उनके जीवन के बारे में थोड़ा जान लेते हैं ,

Wasim Barelvi biography in hindi -वसीम बरेलवी की जीवनी

जाहिद हुसैन जिन्हें कलम नाम वसीम बरेलवी के नाम से जाना जाता है. ज़ाहिद हुसैन का जन्म 8  फरवरी 1940  बरेली में हुआ था.  वसीम बरेलवी 10 साल  की उम्र में ही कुछ शेर लिखे .

वसीम बरेलवी ने बरेली कालेज से एम्. ऐ उर्दू में गोल्ड मेडल हासिल किया. और उसी कॉलेज में वो उर्दू विभाग के अध्यक्ष भी बने.

.साठ के दशक में वसीम साहब मुशायरों में जाने लगे और वहा अपने लिखे गज़लों को पढ़ने लगे. और उनका शेरो-शायरी के प्रति और अधिक झुकाव होने लगा.  

जगजीत सिंह द्वारा गाए गए उनकी ग़ज़लें बहुत लोकप्रिय हैं .उन्हें “फ़िराक गोरखपुरी इंटरनेशनल अवार्ड”, कालिदास स्वर्ण पदक  से सम्मानित किया गया है .बरेलवी नेशनल काउंसिल फॉर प्रमोशन ऑफ़ उर्दू लैंग्वेज (NCPUL) के उपाध्यक्ष हैं। उ

न्होंने कुलव 2012 (NIT इलाहाबाद का सांस्कृतिक कार्यक्रम) में भी प्रदर्शन किया था

वो सबके चहेते बन गए ,आज वसीम बरेलवी  हिंदुस्तान ही नहीं देश विदेशो में भी इनके चाहने वाले हैं .

पेश हैं कुछ ऐसे ही चुनिंदा शेर शायरी (wasim barelvi ki shayari in hindi) :

waseem barelvi shayari in hindi

waseem barelvi shayari in hindi love

दुख अपना अगर हम को बताना नहीं आता
तुम को भी तो अंदाज़ा लगाना नहीं आता

dukh apna agar humko batana nahi aata
tumko bhi to andaaza lagana nahi aata

wasim barelvi shayari image
waseem barelvi shayari in hindi love

asmaan itni bulandi pe jo itrata hai
bhul jata hai zamin se hi nazar aata hai

wasim barelvi shayari image
waseem barelvi shayari on love

wasim barelvi ki shayari in hindi

ग़म और होता सुन के गर आते न वो ‘वसीम’
अच्छा है मेरे हाल की उन को ख़बर नहीं

gham aur hota sun ke gar aate na vo vasim
accha hai mere haal ki un ko khabar nahi

wasim barelvi shayari image
waseem barelvi shayari on love

aise rishte ka bharam rakhna koi khel nahi
tera hona bhi nahi aur tera kehlana bhi

waseem barelvi shayari in hindi on love

अपने चेहरे से जो जाहिर है छुपाए कैसे
तेरी मर्जी के मुताबिक नजर आए कैसे

apne chehre se jo zahir hai chupaen kaise
teri marzi ke mutabik nazar aaen kaise

मै बोलता गया हु और वो सुनता रहा खामोश
ऐसे भी मेरी हार हुई है कभी कभी

wasim barelvi poetry in hindi

mai bolta gaya hun wo sunta raha khamosh
aise bhi meri haar hui hai

तुझे पाने की कोशिश में कुछ इतना खो चुका हूँ मैं
कि तू मिल भी अगर जाए तो अब मिलने का ग़म होगा

tujhe paane ki koshish me kuch itna kho chuka hu mai
ki tu mil bhi jaaye agar to ab milne ka gam na hoga

वो मेरे सामने ही गया और मैं
रास्ते की तरह देखता रह गया

wasim barelvi shayari photo
wasim barelvi romantic shayari

waseem barelvi shayari in hindi love

Wo mere saamne hi reh gaya aur mai
Raaste ki tarah dekhta rah gaya

तुम आ गए हो तो कुछ चांदनी सी बातें
जमी पर चांद कहां रोज-रोज उतरता है


tum aa gae ho to kuch chandi si baatie ho
hai
zamin pe chand kahan rozz rozz utarta hai

shayari of waseem barelvi in hindi

[su_box title=”तुम मेरी तरफ देखना छोड़ दो तो बताऊँ हर शख्स तुम्हारी तरफ ही देख रहा है” radius=”4″]tum meri taraf dekhna chod do to batataun har shaks tumhari tarah hi dekh raha hai [/su_box]

वो झूट बोल रहा था बड़े सलीके से
मै ऐतबार ना करता तो क्या करता

आते आते मेरा नाम सा रह गया
उसके होठो पे कुछ काँपता रह गया

aate aate mera naam sa reh gaya
us ke hothon pe kuch kaanpta reh gaya

wasim barelvi sher in hindi

जहाँ रहेगा वहीं रौशनी लुटाएगा
किसी चराग़ का अपना मकाँ नहीं होता


jahan rahega vahi raushani lutaega
kisi charagh ka apna makaan nahi hota

wasim shayari in hindi

बहुत से ख़्वाब देखोगे तो आँखें
तुम्हारा साथ देना छोड़ देंगी

Bahut se khaab dekhohe to aankhe
Tumhara saath dena chod dengi

wasim barelvi on dosti

wasim barelvi shayari in hindi photo
wasim barelvi best sher

na paane se kisi ke hai na kuchh khone se matlab hai
ye duniyā hai ise to kuchh na kuchh hone se matlab hai

रात तो वक़्त की पाबंद है ढल जाएग जायेगी
देखना ये है चराग़ों का सफ़र कितना है
raat to waqt ki paband hai dhal jayegi
dekhna hai ye charago ka safar kitna hai

wasim barelvi quotes in hindi

शराफ़तों की यहाँ कोई अहमियत ही नहीं
किसी का कुछ न बिगाड़ो तो कौन डरता है
Sharafaton ki yahan koi ahmiyat hi nahi
Kisi ka kuch naa bigaado to kaun darta hai

वैसे तो इक आँसू ही बहा कर मुझे ले जाए
ऐसे कोई तूफ़ान हिला भी नहीं सकता

waise to ek aanshu hi baha kar mujhe le jaaye
Aise koi tufaan hila bhi nahi sakta

wasim barelvi shayari in hindi image
wasim barelvi best sher life

Kisi ne rakh diye mamta bhare to haath kya sar par
Mere andar ka koi baccha bilakh kar rone lagta hai

waseem barelvi poetry in hindi

किसी से कोई भी उम्मीद रखना छोड़ कर देखो
तो ये रिश्ता निभाना किस क़दर आसान हो जाए
kisi se koi bhi ummid rakhna chod kar dekho
Toh ye rishta nibhana kis kadar asaan ho jaaye

कुछ है कि जो घर दे नहीं पाता है किसी को
वर्ना कोई ऐसे तो सफ़र में नहीं रहता
Kuch hai ki jo ghar de nahi pata hai kisi ko
Warna koi aise toh safar me nahi rehta

waseem barelvi two line shayari

हर शख़्स दौड़ता है यहाँ भीड़ की तरफ़
फिर ये भी चाहता है उसे रास्ता मिले
Har shaks daudta hai yahan bheed ki taraf
Fir ye bhi chahta hai use raaste milei

अपने अंदाज़ का अकेला था
इसलिए मैं बड़ा अकेला था
apne andaaz ka akela tha
Isliye mai bada akela tha

हादसों की ज़द पे हैं तो मुस्कुराना छोड़ दें
ज़लज़लों के ख़ौफ़ से क्या घर बनाना छोड़ दें
Haadaso ki jidd pe hai to muskarana chod dei
Jaljalon ke khauf se kya ghar banana chod dei

wasim barelvi romantic shayari in hindi

किसी को कैसे बताएं जरूरते अपनी
मदद मिले ना मिले आबरू तो जाती है
kisi ko kaise bataen zaruratei apni
madad mile na mile aabru to jaati hai

उसी को जीने का हक़ है जो इस ज़माने में
इधर का लगता रहे और उधर का हो जाए

ussi ko jine ka haq hai jo is jamane me
idhar ka lagta rahe aur udhar ka ho jaaye

allama iqbal shayari in hindi -अल्लामा इक़बाल की शायरी

प्रश्तुत है इक़बाल के प्रसिद्द शेर और शायरी, iqbal shayari in hindi,allama iqbal love shayari,iqbal ke sher, allama iqbal quotes in hindi,अल्लामा इक़बाल की शायरी जो की पाठकों को पसंद आएगा

इकबाल – मतलब हिंदी में Iqbal meaning in hindi

प्रताप,तेज, किस्मत,भाग्य ,धनदौलत, वैभव,अपराध आदि स्वीकार करने की क्रिया या भाव स्वीकृति,इकरार।

allama iqbal shayari

दिल की बस्ती अजीब बस्ती है,
लूटने वाले को तरसती है।

Dil ki basti ajeeb hai
Lootne waale ko tarsati hai

ढूंढता रहता हूं ऐ ‘इकबाल’ अपने आप को,
आप ही गोया मुसाफिर, आप ही मंजिल हूं मैं।

Doondta rahta hoon ae ‘Iqbal’ apne aap ko
Aap hi goya musafir, aap hi manjil hoon main

allama iqbal quotes in hindi

मुझे रोकेगा तू ऐ नाखुदा क्या गर्क होने से
कि जिसे डूबना हो, डूब जाते हैं सफीनों  में

Mujhe rokega tu ae nakhuda kya gark hone se
Ki jise doobna ho, doob jaate hai safeenon mein

उम्र भर तेरी मोहब्बत मेरी खिदमत रही
मैं तेरी खिदमत के क़ाबिल जब हुआ तो तू चल बसी

Umr bhar teri mohabbat meri khidmat rahi
Mai teri khidmat ke kabil jab hua tu chal basi

allama iqbal sher in hindi

साकी की मुहब्बत में दिल साफ हुआ इतना
जब सर को झुकाता हूं शीशा नजर आता है

Saaqi ki muhabbat mein dil saaf hua itna
Jab sar ko jhukaata hoon sheesha nazar aata hai

iqbal poetry in hindi

साकी की मुहब्बत में दिल साफ हुआ इतना
जब सर को झुकाता हूं शीशा नजर आता है

Saaqi ki muhabbat mein dil saaf hua itna
Jab sar ko jhukaata hoon sheesha nazar aata hai

और भी कर देता है दर्द में इज़ाफ़ा
तेरे होते हुए गैरों का दिलासा देना

Aur bhi kar deta hai dard me ijafa
Tere hote hue gairon ka dilasa dena

allama iqbal shayari on imam hussain in hindi

कभी छोड़ी हुई मंज़िल भी याद आती है राही को
खटक सी है जो सीने में ग़म-ए-मंज़िल न बन जाए

ख़ुदी वो बहर है जिस का कोई किनारा नहीं
तू आबजू इसे समझा अगर तो चारा नहीं

आईन-ए-जवाँ-मर्दां हक़-गोई ओ बे-बाकी
अल्लाह के शेरों को आती नहीं रूबाही

किसे ख़बर कि सफ़ीने डुबो चुकी कितने
फ़क़ीह ओ सूफ़ी ओ शाइर की ना-ख़ुश-अंदेशी

कभी हम से कभी ग़ैरों से शनासाई है
बात कहने की नहीं तू भी तो हरजाई है

shayari iqbal in hindi

किसी की याद ने ज़ख्मो से भर दिया सीना
हर एक सांस पर शक है के आखरी होगी

Kisi ki yaad ne jakhmo se bhar diya sina
Har ek saans par shaq hai ke akhiri hoga

मिटा दे अपनी हस्ती को गर कुछ मर्तबा* चाहिए
कि दाना खाक में मिलकर, गुले-गुलजार होता है

ALLAMA IQBAL SHAYARI ON NAMAZ

उरूज-ए-आदम-ए-ख़ाकी से अंजुम सहमे जाते हैं
कि ये टूटा हुआ तारा मह-ए-कामिल न बन जाए

ज़मीर-ए-लाला मय-ए-लाल से हुआ लबरेज़
इशारा पाते ही सूफ़ी ने तोड़ दी परहेज़

अज़ाब-ए-दानिश-ए-हाज़िर से बा-ख़बर हूँ मैं
कि मैं इस आग में डाला गया हूँ मिस्ल-ए-ख़लील

ज़िंदगानी की हक़ीक़त कोहकन के दिल से पूछ
जू-ए-शीर ओ तेशा ओ संग-ए-गिराँ है ज़िंदगी

उसे सुब्ह-ए-अज़ल इंकार की जुरअत हुई क्यूँकर
मुझे मालूम क्या वो राज़-दाँ तेरा है या मेरा

Allama iqbal shayari on karabali in hindi

अगर हंगामा-हा-ए-शौक़ से है ला-मकाँ ख़ाली
ख़ता किस की है या रब ला-मकाँ तेरा है या मेरा

नहीं इस खुली फ़ज़ा में कोई गोशा-ए-फ़राग़त
ये जहाँ अजब जहाँ है न क़फ़स न आशियाना

जब इश्क़ सिखाता है आदाब-ए-ख़ुद-आगाही
खुलते हैं ग़ुलामों पर असरार-ए-शहंशाही

नहीं तेरा नशेमन क़स्र-ए-सुल्तानी के गुम्बद पर
तू शाहीं है बसेरा कर पहाड़ों की चटानों में

इश्क़ तिरी इंतिहा इश्क़ मिरी इंतिहा
तू भी अभी ना-तमाम मैं भी अभी ना-तमाम

Mita de apni hasti ko gar kuchh martba chaahiye
Ki daana khaak meinmilkar, gule-gulzaar hota hai

allama iqbal shayari in urdu

तेरी दुआ से कज़ा तो बदल नहीं सकती
मगर है इस से यह मुमकिन की तू बदल जाये

Teri dua se kaza to badal nahi sakti
Magar hai is se yeh mumkin ki tu badal jaye

allama iqbal shayari in hindi font

जफा जो इश्क में होती है वह जफा ही नहीं,
सितम न हो तो मुहब्बत में कुछ मजा ही नही

Jafa jo ishq mein hoti hai wah zafa hi nahin
Sitam na ho to muhabbat mein kuchh maza hi nahin

हया नहीं है ज़माने की आँख में बाक़ी
ख़ुदा करे कि जवानी तिरी रहे बे-दाग़

Haya nahi hai jamaane ki aankh mein baki
Khuda kare ki jawaani teri bedaag rahe

allama iqbal motivational shayari in hindi

हंसी आती है मुझे हसरते इंसान पर
गुनाह करता है खुद और लानत भेजता है सैतान पर

Hansi Aati Hai Mujhe Hasrate Insaan Par
Gunah Karta Hai Khud Aur Lanat Bhejta Hai Saitan Par.. …
.

dr iqbal shayari in hindi

फूल की पती से कट सकता है हीरे का जिगर
मर्दे नादाँ पर कलाम-ऐ-नरम-ऐ-नाज़ुक बेअसर

Phool Ki Patti Sy Cut Sakta He Heeray Ka Jigar
Kalam E Narm O Nazuk Mard E Nadan Pr By Asar..

iqbal ki shayari

हजारों साल नर्गिस अपनी बेनूरी पे रोती है
बड़ी मुश्किल से होता है चमन में दीदावर पैदा

Hazaron saal nargis apni benoori pe roti hai
Badi mushkil se hota hai chaman mein deedawar paida

न पूछो मुझ से लज़्ज़त ख़ानमाँ-बर्बाद रहने की
नशेमन सैकड़ों मैं ने बना कर फूँक डाले हैं

इश्क़ भी हो हिजाब में हुस्न भी हो हिजाब में
या तो ख़ुद आश्कार हो या मुझे आश्कार कर

न समझोगे तो मिट जाओगे ऐ हिन्दोस्ताँ वालो
तुम्हारी दास्ताँ तक भी न होगी दास्तानों में

गुज़र जा अक़्ल से आगे कि ये नूर
चराग़-ए-राह है मंज़िल नहीं है

नहीं है ना-उमीद ‘इक़बाल’ अपनी किश्त-ए-वीराँ से
ज़रा नम हो तो ये मिट्टी बहुत ज़रख़ेज़ है साक़ी

  allama iqbal shayari in english  image,
allama iqbal ki shayari in hindi, allama iqbal love shayari, allama iqbal motivational shayari in hindi, allama iqbal poetry,
allah ma iqbal shayari in hindi
allama iqbal shayari in english  image
iqbal quotes in hindi
allama iqbal best poetry
allama iqbal shayari in english  image
allama iqbal ki shayari in hindi
allama iqbal shayari in english  image
iqbal ki shayari in hindi
अल्लामा इकबाल शायरी इन हिंदी

एक सरमस्ती ओ हैरत है सरापा तारीक
एक सरमस्ती ओ हैरत है तमाम आगाही

बुतों से तुझ को उमीदें ख़ुदा से नौमीदी
मुझे बता तो सही और काफ़िरी क्या है

गला तो घोंट दिया अहल-ए-मदरसा ने तिरा
कहाँ से आए सदा ला इलाह इल-लल्लाह

दिल से जो बात निकलती है असर रखती है
पर नहीं ताक़त-ए-परवाज़ मगर रखती है

अच्छा है दिल के साथ रहे पासबान-ए-अक़्ल
लेकिन कभी कभी इसे तन्हा भी छोड़ दे

allama iqbal shayari in english  image
allama iqbal love shayari in hindi
allama iqbal shayari in english  image
allama iqbal ki shayari hindi mai

Click here to read more Allama Iqbal shayari in english

islamic shayari by allama iqbal in urdu

Munnawar Rana Shayari – मुन्नवर राणा शायरी

Munnavar Rana Shayari |मुन्नवर राणा शायरी में एक ऐसा नाम हैं जो माँ को बड़े ही सरल शब्दों  में शायरियों के द्वारा लिखते हैं. मुन्नवर राणा द्वारा लिखी माँ के लिए शायरियां का कोई जोड़ नहीं हैं. कम से कम शब्दों में माँ के प्यार को लिखने की कला तो बस मुन्नवर राणा साहब ही जानते हैं.

Munnawar Rana biography in hindi | मुनव्वर राणा की जीवनी

मुनव्वर राणा का जन्म 1952 में उत्तर प्रदेश के रायबरेली में हुआ था, लेकिन उन्होंने अपना अधिकांश जीवन कोलकाता में बिताया. वह हिंदी और अवधी शब्दों का उपयोग करते हैं और फ़ारसी और अरबी से बचने की कोशिश करते हैं । यह उनकी कविता को भारतीय दर्शकों के लिए सुलभ बनाता है और काव्य में उनकी सफलता गैर-उर्दू क्षेत्रों में मिलती है.

मुनव्वर ने कई ग़ज़लें प्रकाशित की हैं । उनके अधिकांश शेरों की माँ उनके प्यार के केंद्र बिंदु के रूप में है,उर्दू साहित्य के लिए साहित्य अकादमी पुरस्कार (2014)। उन्होंने लगभग एक वर्ष बाद यह पुरस्कार लौटाया,

Munnawar Rana Shayari | मुनव्वर राणा शायरी की कलम में मानो खुद माँ का ही वास हो, उनकी कलम तो बस माँ के प्यार के लिए बनी हैं. मुन्नवर राणा द्वारा लिखी गयी माँ नामक किताब जो पुरे विश्व में मशहूर हैं.

प्रश्तुत हैं मुन्नवर राणा शायरी संग्रह .माँ पर उनके शेर एक अलग सेक्शन में दिया गया है

munawwar rana shayari 2020

munawwar rana shayari on politics,munawwar rana shayari on dosti, munawwar rana famous shayari,munawwar rana sher shayari,munawwar rana poetry on love,munawwar rana shayari on mother in hindi,shayari of munawwar rana on maa,rana shayari hindi,rana munawar ki shayari,munawwar rana poetry maa,munawwar rana maa hindi,munawwar rana sher o shayari,
munawwar rana poem on maa in hindi,munawwar rana sad shayari in hindi,munawwar rana motivational shayari,munawwar rana ki,
shayari rana,munawwar rana whatsapp status.
munawwar rana shayari on politics

एक आँसू भी हुकूमत के लिए ख़तरा है
तुम ने देखा नहीं आँखों का समुंदर होना

munawwar rana shayari in hindi

munawwar rana shayari on politics
munawwar rana shayari on politics

मिट्टी में मिला दे कि जुदा हो नहीं सकता
अब इस से ज़ियादा मैं तिरा हो नहीं सकता
दहलीज़ पे रख दी हैं किसी शख़्स ने आँखें
रौशन कभी इतना तो दिया हो नहीं सकता
बस तू मिरी आवाज़ से आवाज़ मिला दे
फिर देख कि इस शहर में क्या हो नहीं सकता
ऐ मौत मुझे तू ने मुसीबत से निकाला
सय्याद समझता था रिहा हो नहीं सकता
इस ख़ाक-ए-बदन को कभी पहुँचा दे वहाँ भी
क्या इतना करम बाद-ए-सबा हो नहीं सकता
पेशानी को सज्दे भी अता कर मिरे मौला
आँखों से तो ये क़र्ज़ अदा हो नहीं सकता
दरबार में जाना मिरा दुश्वार बहुत है
जो शख़्स क़लंदर हो गदा हो नहीं सकता

munawwar rana ki shayari

munawwar rana shayari on beti
munawwar rana shayari on beti

हाँ इजाज़त है अगर कोई कहानी और है
इन कटोरों में अभी थोड़ा सा पानी और है
मज़हबी मज़दूर सब बैठे हैं इन को काम दो
एक इमारत शहर में काफ़ी पुरानी और है
ख़ामुशी कब चीख़ बन जाए किसे मालूम है
ज़ुल्म कर लो जब तलक ये बे-ज़बानी और है
ख़ुश्क पत्ते आँख में चुभते हैं काँटों की तरह
दश्त में फिरना अलग है बाग़बानी और है
फिर वही उक्ताहटें होंगी बदन चौपाल में
उम्र के क़िस्से में थोड़ी सी जवानी और है
बस इसी एहसास की शिद्दत ने बूढ़ा कर दिया
टूटे-फूटे घर में इक लड़की सियानी और है

munawwar rana poetry

munawwar rana shayari on beti,best shayari maa, best shayari on maa, bestshayari in images, hindi shayari for maa, hindi shayari maa ke liye, hindi shayari on maa, ma shayri, maa baap ke liye shayari, maa baap par shayari, maa k liye shayari, maa ka sauda, maa ke liye shayari, maa ke liye shayari hindi, maa ke liye shayari in hindi, maa ke sath holi, maa ke upar shayari,
munawwar rana shayari on beti

गले मिलने को आपस में दुआयें रोज़ आती हैं
अभी मस्जिद के दरवाज़े पे मायें रोज़ आती हैं
अभी रोशन हैं चाहत के दिये हम सबकी आँखों में
बुझाने के लिये पागल हवायें रोज़ आती हैं
कोई मरता नहीं है , हाँ मगर सब टूट जाते हैं
हमारे शहर में ऎसी वबायें* रोज़ आती हैं
अभी दुनिया की चाहत ने मेरा पीछा नहीं छोड़ा
अभी मुझको बुलाने दाश्तायें*रोज़ आती हैं
ये सच है नफ़रतों की आग ने सब कुछ जला डला
मगर उम्मीद की ठंडी हवायें रोज़ आती हैं

munawwar rana sher

Munnavar Rana shayari 2020
मुन्नवर राणा

बरसों से इस मकान में रहते हैं चंद लोग
इक दूसरे के साथ वफ़ा के बग़ैर भी

मुन्नवर राणा
munawwar rana shayari

हालाँकि हमें लौट के जाना भी नहीं है
कश्ती मगर इस बार जलाना भी नहीं
हैतलवार न छूने की कसम खाई है लेकिन
दुश्मन को कलेजे से लगाना भी नहीं है
यह देख के मक़तल में हँसी आती है मुझको
सच्चा मेरे दुश्मन का निशाना भी नहीं है
मैं हूँ मेरा बच्चा है, खिलौनों की दुकाँ है
अब कोई मेरे पास बहाना भी नहीं है
पहले की तरह आज भी हैं तीन ही शायर
यह राज़ मगर सब को बताना भी नहीं है

munawwar rana maa shayari in urdu

munawwar rana shayari  2020 image,
munawwar rana shayari

गौतम की तरह घर से निकल कर नहीं जाते
हम रात में छुपकर कहीं बाहर नहीं जाते
बचपन में किसी बात पर हम रूठ गए थे
उस दिन से इसी शहर में है घर नहीं जाते
एक उम्र यूँ ही काट दी फ़ुटपाथ पे रहकर
हम ऐसे परिन्दे हैं जो उड़कर नहीं जाते
उस वक़्त भी अक्सर तुझे हम ढूँढने निकले
जिस धूप में मज़दूर भी छत पर नहीं जाते
हम वार अकेले ही सहा करते हैं ‘राना’
हम साथ में लेकर कहीं लश्कर नहीं जाते

munawwar rana shayari maa

munawwar rana shayari image,
munawwar rana shayari

किसी को घर मिला हिस्से में या कोई दुकाँ आई
मैं घर में सब से छोटा था मिरे हिस्से में माँ आई
यहाँ से जाने वाला लौट कर कोई नहीं आया
मैं रोता रह गया लेकिन न वापस जा के माँ आई
अधूरे रास्ते से लौटना अच्छा नहीं होता
बुलाने के लिए दुनिया भी आई तो कहाँ आई
किसी को गाँव से परदेस ले जाएगी फिर शायद
उड़ाती रेल-गाड़ी ढेर सारा फिर धुआँ आई
मिरे बच्चों में सारी आदतें मौजूद हैं मेरी
तो फिर इन बद-नसीबों को न क्यूँ उर्दू ज़बाँ आई
क़फ़स में मौसमों का कोई अंदाज़ा नहीं होता
ख़ुदा जाने बहार आई चमन में या ख़िज़ाँ आई
घरौंदे तो घरौंदे हैं चटानें टूट जाती हैं
उड़ाने के लिए आँधी अगर नाम-ओ-निशाँ आई
कभी ऐ ख़ुश-नसीबी मेरे घर का रुख़ भी कर लेती
इधर पहुँची उधर पहुँची यहाँ आई वहाँ आई

munawwar rana sher

munawwar rana love shayari
munawwar rana shayari

ज़िंदगी तू कब तलक दर-दर फिराएगी हमें
टूटा-फूटा ही सही घर-बार होना चाहिए

munawwar rana shayari on love
munawwar rana quotes

हम सायादार पेड़ ज़माने के काम आए
जब सूखने लगे तो जलाने के काम आए
तलवार की नियाम कभी फेंकना नहीं
मुमकिन है दुश्मनों को डराने के काम आए
कच्चा समझ के बेच न देना मकान को
शायद कभी ये सर को छुपाने के काम आए
ऐसा भी हुस्न क्या कि तरसती रहे निगाह
ऐसी भी क्या ग़ज़ल जो न गाने के काम आए
वह दर्द दे जो रातों को सोने न दे हमें
वह ज़ख़्म दे जो सबको दिखाने के काम आए
मुनव्वर राना

munawwar rana best

munawwar rana shayari image
munawwar rana maa shayari in hindi lyrics

आप को चेहरे से भी बीमार होना चाहिए
इश्क़ है तो इश्क़ का इज़हार होना चाहिए

munnavar rana shayari on love

munawwar rana ke sher
rana shayari

munawwar rana love shayari in hindi

भुला पाना बहुत मुश्किल है सब कुछ याद रहता है
मोहब्बत करने वाला इस लिए बरबाद रहता है

munawwar rana shayari image,
Munnavar Rana Shayari

munawwar rana shayari on politics

munawwar rana shayari image
Munnavar Rana Shayari

कभी ख़ुशी से ख़ुशी की तरफ़ नहीं देखा
तुम्हारे बाद किसी की तरफ़ नहीं देखा

munawwar rana shayari image

मैं इस से पहले कि बिखरूँ इधर उधर हो जाऊँ
मुझे सँभाल ले मुमकिन है दर-ब-दर हो जाऊँ
ये आब-ओ-ताब जो मुझ में है सब उसी से है
अगर वो छोड़ दे मुझ को तो मैं खंडर हो जाऊँ
मिरी मदद से खुजूरों की फ़स्ल पकने लगे
मैं चाहता हूँ कि सहरा की दोपहर हो जाऊँ
मैं आस-पास के मौसम से हूँ तर-ओ-ताज़ा
मैं अपने झुण्ड से निकलूँ तो बे-समर हो जाऊँ
बड़ी अजीब सी हिद्दत है उस की यादों में
अगर मैं छू लूँ पसीने से तर-ब-तर हो जाऊँ
मैं कच्ची मिट्टी की सूरत हूँ तेरे हाथों में
मुझे तू ढाल दे ऐसे कि मो’तबर हो जाऊँ
बची-खुची हुई साँसों के साथ पहुँचाना

सुनो हवाओ अगर मैं शिकस्ता-पर हो जाऊँ

munawwar rana maa shayari in hindi

munawwar rana shayari image
munawwar rana shayari on life

ये सर-बुलंद होते ही शाने से कट गया
मैं मोहतरम हुआ तो ज़माने से कट गया
उस पेड़ से किसी को शिकायत न थी मगर
ये पेड़ सिर्फ़ बीच में आने से कट गया
वर्ना वही उजाड़ हवेली सी ज़िंदगी
तुम आ गए तो वक़्त ठिकाने से कट गया

munawwar rana shayari image
munawwar rana dosti shayari in hindi

munawwar rana shayari on maa

munawwar rana shayari image,maa ke upar shayari in hindi, maa ki mamta shayari, maa ki shayari, maa ki shayari hindi, maa par shayari in hindi, maa pe shayari, maa shayari, maa shayari in hindi, maa shayri, munaivar, munavvar rana, munawar, munawar rana, munawwar rana, munawwar rana hindi shayari, munawwar rana maa, munawwar rana on maa, munawwar rana shayari, munawwar rana shayari hindi, munawwar rana shayari in hindi, munawwar rana shayari maa, munawwar rana shayari on maa, munawwar rana shayri,
munawwar rana shayari on maa

चलती फिरती आँखों से अज़ाँ देखी है
मैंने जन्नत तो नहीं देखी है माँ देखि है


Chalti firti hui aankhon se azan dekhi hai
Maine jannat to nahi dekhi hai maa dekhi hai

munawwar rana best shayari

munawwar rana shayari image
munawwar rana shayari on maa

ऐ अँधेरे! देख ले मुँह तेरा काला हो गया
माँ ने आँखें खोल दीं घर में उजाला हो गया

Jab tak raha hoon dhoop me chaadar bana raha
Main apni Maa ka aakhiri jewar bana raha

munawwar rana maa

munawwar rana shayari image,munawwar rana sher, munivar, munnavar rana, munnawar rana, rana mother, rana sister, sayers in hindi, shayari for maa, shayari for maa in hindi, shayari in hindi maa, shayari maa, shayari maa ke liye, shayari of maa, shayari on maa, shayari on maa in hindi, shayari on mom, माँ पर दो लाइन शायरी, माँ पर शायरी, माँ बाप पर शायरी, माँ शायरी, मुनव्वर राना
munawwar rana shayari on maa

माँ के आगे यूँ कभी खुल कर नहीं रोना
जहाँ बुनियाद हो इतनी नमी अच्छी नहीं होती

Maa ke aage yoon kabhi khul kar nahi rona
Jahan buniyaad ho itani nami achchhi nahi hoti

munawwar rana shayari image
munawwar rana shayari on maa

maa shayari munawwar rana

लबों पे उसके कभी बद्दुआ नहीं होती
बस एक माँ है जो मुझसे ख़फ़ा नहीं होती

Labon pe uske kabhi baddua nahi hoti
Bas ek Maa hai jo kabhi khafa nahi hoti

best shayari on maa

munawwar rana shayari image
munawwar rana shayari on maa

इस तरह मेरे गुनाहों को वो धो देती है
माँ बहुत ग़ुस्से में होती है तो रो देती है

Is tarah mere gunaahon ko wo dho deti hai
Maa bahut gusse me hoti hai to ro deti hai

munawwar rana shayari image
munawwar rana shayari on maa

जब भी कश्ती मेरी सैलाब में जाती है
मां दुआ करती हुई ख्वाब में जाती है

munawwar rana shayari image
munawwar rana shayari on maa

मुझे कढ़े हुए तकिये की क्या ज़रूरत है
किसी का हाथ अभी मेरे सर के नीचे है


Mujhe kadhe hue takiye ki kya jaroorat hai
Kisi ka haath abhi mere sar ke neeche hai

ख़ुद को इस भीड़ में तन्हा नहीं होने देंगे
माँ तुझे हम अभी बूढ़ा नहीं होने देंगे

Khud ko is bheed me tanha nahi hone denge
Maa tujhe hum abhi boodha nahi hone denge

दिन भर की मशक़्क़त से बदन चूर है लेकिन
माँ ने मुझे देखा तो थकन भूल गई है


Din bhar ki mashakkat se badan chur hai lekin
Maa ne mujhe dekha to thkan bhool gai hai

best shayari maa

दिया है माँ ने मुझे दूध भी वज़ू करके
महाज़े-जंग से मैं लौट कर न जाऊँगा


Diya hai Maa ne mujhe Doodh bhi wajoo karke
Mahaaze-jang se main laut kar na jaaunga

हादसों की गर्द से ख़ुद को बचाने के लिए
माँ ! हम अपने साथ बस तेरी दुआ ले जायेंगे

Haadson ki gard se khud ko bachaane ke liye
Maa hum apne saath bas teri dua le jayenge

बुज़ुर्गों का मेरे दिल से अभी तक डर नहीं जाता
कि जब तक जागती रहती है माँ मैं घर नहीं जाता


Bujurgon ka mere dil se abhi tak dar nahi jaata
Ki jab tak jaagti rahti hai Maa main ghar nahi jaata

ये ऐसा क़र्ज़ है जो मैं अदा कर ही नहीं सकता,
मैं जब तक घर न लौटूं, मेरी माँ सज़दे में रहती है


Ye aisa karz hai jo main adaa kar hi nahi sakta
Main jab tak ghar na lautoon, meri maa sazde me rahti hai

इन्हे भी पढ़ें :

मिर्ज़ा ग़ालिब शायरी
गुलजार शायरी
राहत इंदौरी शायरी

Desh Bhakti Shayari in hindi- देशभक्ति शायरी 2020

Desh Bhakti Hindi Shayari,देशभक्ति शायरी desh bhakti shayari 2020 ,New DeshBhakti Shayari, Deshbhakti Status, Desh Prem Shayari, Independence Day Status, Republic Day Shayari Status, Patriotic SMS, Patriotic Shayari in Hindi. Patriotic Status for Facebook and Whatsapp. Desh Bhakti Shayari Collection in Hindi and English font.

 2 lines sad shayri, 26 january sms, , bhakti shayari, bhakti shayari hindi, bhakti shayari hindi me, bhakti shayari image,
desh bhakti shayari 2020

किसी प्यारी दिलवाली को छोड़ आया हूँ
उसकी महकती दिवाली को छोड़ आया हूँ
सीने से लगाएगी मेरी भारत माँ
अपनी माँ की ममता को तोड़ आया हूँ

 desh bhakti shayari 2020 ,desh indian flag shayari, indian patriotic shayari hindi, indian shaheed jawan shayari hindi,
desh bhakti shayari 2020

नशा है मुझे इस तिरंगे की आन में
बसा है मेरा दिल इस धरती की जान में
शक हो कोई मन में तो देख लेना
कल भी थे कल भी रहेंगे इसी हिंदुस्तान में

मेरे दिल में अपने देश का सम्मान है इस मिटटी इस धरती का ही गुणगान है फक्र होगा मुझे अपनी मौत से कफ़न तिरंगा का हो यही अरमान है

indian shayari hindi, indian shayari in hindi, shaheedon ke naam shayari, shaheedon ki shayari, shaheedon ko salam shayari,
Army Shayari in hindi 2020

तिरंगा कोई वस्त्र नहीं भारत की शान है
हर एक हिंदुस्तानी का यह हिंदुस्तान है
यहाँ की गंगा यही का हिमालय चीख रहा है
नाम मात्र नहीं ये हमारे दिलो का स्वाभिमान है

आजादी की शायरी, आजादी शायरी, जोश भरी शायरी, जोशीली शायरी, देश प्रेम पर कविता, देश प्रेम शायरी, देश भक्ति, देश भक्ति की शायरी, देश भक्ति पर शायरी, देश भक्ति शायरियाँ, देश भक्ति शायरी, देश भक्ति शायरी हिन्दी, देश भक्ति शेरो शायरी, देश शायरी, देशभक्ति, देशभक्ति शायरी, देशभक्ति शायरी कविता, देशभक्ति शायरी हिंदी में, देशभक्ति शेर, धमाकेदार स्टेटस, भक्ति शायरी, मेरा मुल्क मेरा देश, राष्ट्रीय शायरी, वतन पर शायरी, वतन परस्ती शायरी, वतन शायरी, शहीदों की शायरी, शहीदों के लिए शायरी, शायरी देश पर, शायरी देशभक्ति, शायरी देशभक्ति पर, स्वतंत्रता दिवस पर शेर, हिंदी देशभक्ति शायरी, हिदी शेरो शायरी, हिन्दू मुस्लिम शायरी
desh bhakti shayari 2020

NCC Shayari in hindi

अधिकार कोई देता नहीं लिए जाते हैं
प्यार मांगने से पहले सम्मान दिए जाते हैं
याद करो उन वीरों की कुर्बानी को ,
जो इस धरती के लिए जान न्यौछावर किये जाते है

 , shayari on azadi in hindi, shayari on desh bhakti, shayari on desh bhakti in hindi, shayari on hindustan, shayari on india, shayari on india in hindi, shayari on indian army, shayari on patriotism, shayari on patriotism in hindi, shayari on soldiers in hindi, shayari on watan, shayri desh bhakti, shayri on desh bhakti,
Desh Bhakti Shayari in hindi

सारे जहाँ से अच्छा, हिन्दोस्ताँ हमारा
हम बुलबुलें हैं इसकी, यह गुलिस्ताँ हमारा
कुछ बात है कि हस्ती मिटती नहीं हमारी
सदियों रहा है दुश्मन, दौर-ए-जहाँ हमारा

लुटेगी आजादी अगर तो अपमान सबका है , मत फैलाओ नफ़रतें,ये जहान सबका है इंसान बनने की आदत डालो क्या हिन्दू क्या मुस्लिम ये हिन्दुस्तान सबका है

shahido ke liye shayari, shahido ki shayari, shahido ki shayari in hindi, shahido par shayari, shahido par shayari in hindi, sharry new song, shayari bhakti, shayari desh bhakti, shayari desh bhakti in hindi, shayari for anchoring, shayari for army man, shayari for indian army, shayari hindi desh bhakti, shayari in hindi desh bhakti
Desh Bhakti Shayari in hindi

Army Shayari in hindi

चढ़ गये जो बिन सोचे सूली,
खाई थी जिन्होंने सीने पे गोली,
हमारा उनको प्रणाम है
शहीदों को हमारा नतमस्तक सलाम है

कर सलाम इस तिरंगे को जो तेरी शान है,
सर हमेशा ऊँचा रखना जब तक जान में जान है….

जहाँ हम हिन्दू-मुसलमान के फर्क में मर रहे हैं,
कुछ लोग हिंदुस्तान के बर्फ में मरे रहे हैं

उठ जाता हु अक्सर क्या किया है देश के लिए ,
आज फिर सरहद पर खून बहा हैं मेरी नींद के लिए

shayari against pakistan

मिलते नही जो हक वो लिए जाते हैं,
होता नहीं गुलाम कोई लोग किये जाते हैं
उन वीरों को शत शत नमन करो,
मौत के साए में होते है और जिए जाते हैं….

ये देश तुम्हे बुला रहा है आ जाओ
कर्ज इस माँ का चूका जाओ
देकर कुर्बानी अपने जान की
सच्चे लाल तुम्ही हो एक बार दिखला जाओ

Desh Bhakti Shayari in hindi,status for army man in hindi, story on desh bhakti in hindi, swatantrata diwas ki shayari in hindi, tiraanga,
Army Shayari in hindi

indian shaheed jawan shayari hindi

ऐ मेरे वतन के लोगों तुम खूब लगा लो नारा
ये शुभ दिन है हम सब का लहरा लो तिरंगा प्यारा
पर मत भूलो सीमा पर वीरों ने है प्राण गँवाए
कुछ याद उन्हें भी कर लो जो लौट के घर न आये

गूंजेगा भारत दुनिया में दुबारा, चमकेगा अपना नाम का सितारा मिलके इस देश को बनाओ , बुलंदियों से लहराएगा अपना तिरंगा प्यारा

Army Shayari in hindi

Army Shayari

अमन चैन इस देश में रहने दो
मत फैलाओ दंगा इस धरती को कहने दो
रंगो में ना बांटो मुझको
मेरे दिल में हिन्दुस्तानी तिरंगा फहरने दो

Desh Bhakti Shayari in hindi,das bhakti, das bhakti shayari,
Desh Bhakti Shayari in hindi

अपनी आजादी को हम हरगिज मिटा सकते नही !
सर कटा सकते हैं लेकिन सर झुका सकते नही!!

 das bhakti song, des bhakti sayri, desbhakti sayri, desh bhakt in hindi,
Army Shayari in hindi

अपनी आजादी को कभी खोने नहीं देंगे
जगाई थी जो आग वीरों ने अब सोने नहीं देंगे
खून का एक कतरा है जब तक
इस भारत माँ को अब ना रोने देंगे

Army Shayari in hindi, bharat mata ki shayari, bharat mata quotes in hindi, bharat mata shayari, bharat shayari,
देशभक्ति शायरी

शहीदों की चिताओं पर लगेंगे हर बरस मेले,
वतन पे मर मिटनेवालों का बाकी यही निशां होगा

देशभक्ति शायरी
देशभक्ति शायरी

दिल की नफरते निकालना जरूरी है
वतन के दुश्मनो को मारना जरूरी है
देश अगर खतरे में हो मेरे दोस्त
इस धरती को संभालना जरूरी है

watan pe shayari – वतन पे शायरी

देशभक्ति शायरी
देशभक्ति शायरी

इस तिरंगे को झुकने मत देना,
देश की शान को रुकने मत देना
अरमान लिए हैं दिल में ,
हिंदुस्तान की मोहब्बत को बटने मत देना

देशभक्ति शायरी
देशभक्ति शायरी

इतनी सी बात बच्चो को समझाए रखना
रोशनी आजादी की चिरागों तले जलाये रखना
कई जिंदगियां कुर्बान हुई हैं
इस आजादी को हर कीमत पे बचाये रखना

deshbhakti shayari 2020 , bhakti shayari in hindi, bhakti shayari photo, bhakti shayri, bhakti sms, bhakti sms in hindi,
deshbhakti shayari 2020

खूबसूरत है दुनिया में सबसे नाम बहुत न्यारा है
इस देश की मिटटी पे अभिमान हमारा है
विभिन्नताओं में बसता है यह देश
इसी भारत में यही हिन्दुस्तान दुनिया में सबसे प्यारा है

deshbhakti shayari 2020
deshbhakti shayari 2020

लहू का एक एककतरा है इस वतन के वास्ते
राहो पे फूल बिछाऊंगा इस चमन के वास्ते
मौत तो आएगी ही एक दिन
जी लो जिंदगी इस धरती इस उपवन के वास्ते

deshbhakti shayari 2020
deshbhakti shayari 2020

मुझे मुल्क की हिफाजत करना है
इस वतन पे ही मुझे मरना है
इस पर कुर्बान है मेरा सबकुछ
मौत तो दिलरुबा है उसी से लड़ना है

deshbhakti shayari 2020

ना अच्छा जीवन ना बड़ा धन चाहिए
बस बना रहे अमन ऐसा वतन चाहिए
जिन्दा हैं जबतक धरती से मोहब्बत है
मौत पे तीन रंगो का कफ़न चाहिए

deshbhakti shayari 2020
deshbhakti shayari 2020

शहीदों का लहू रंग लाया था
हमने अंग्रेज़ो को संग भगाया था
वतन के लिए फिर मौका है
प्यार दिखा भगत सिंह ने जो दिखलाया था

Rahat Indori Shayari in hindi – राहत इंदौरी शायरी

ग़ज़ल अगर शब्दों से खेलने की कला है तो मान लीजिए कि राहत इंदौरी वो कलाकार हैं जो अपने अंदाज में इस कला के माहिर खिलाडी है । Rahat Indori Shayari in hindi ,डाॅ. राहत इंदौरी के शायरी शेर हर लफ्ज में मोहब्बत की नई शुरुआत करते हैं. वह सरकार और सामजिक व्यवस्था को आइना भी दिखाते हैं।

हम डॉ राहत इंदौरी के सबसे ताज़ा और मशहूर शायरियां अंग्रेजी और हिंदी में प्रश्तुत कर रहे हैं .उम्मीद है की पाठको को हमारा Rahat Indori Shayari ,rahat indori shayri,राहत इंदौरी शायरी संग्रह कलेक्शन पसंद आये |

Rahat Indori Shayari

shayari indori

फूलों की दुकानें खोलो,
खुशबु का ब्योपार करो…
इश्क़ खता है, तो ये खता,
इक बार नहीं…. सौ बार करो….

Phoolo.n ki dukaane.n kholo,
Khushbu ka byopaar karo
Ishq khataa hai, to ye khataa,
Ik baar nahi, Sou baar karo

कौन खरीदेगा तुझको,
उर्दू का अख़बार ना बन

rahat indori best shayari whatsapp status,
sher rahat indori

रोज तारों को नुमाइश में खलल पता है
चांद पागल है अंधेरे में निकल पड़ता है

roz taron ko numaish men khalal padta hai
chand pagal hai andhere men nikal padta hai

rahat indori romantic shayari in hindi | sayri hinde

love shayari by rahat indori

आग का क्या है पल दो पल में लगती है,
बुझाते बुझाते एक ज़माना लगता है’

Aag ka kya hai pal do pal me lagti hai,
Bujhate bujhaate ek jamana lagta hai

, rahat indori shayari wallpaper,

आंख में पानी रखो होठों पर चिंगारी रखो
जिंदा रहना है तो तक़रीबें बहुत सारी रखो

Rahat indori hindi Shayari in english

aankh men paani rakho honthon pe chingari rakho
zinda rahna hai to tarkiben bahut saari rakho

घर के बाहर ढूंढता रहता हूं दुनिया
घर के अंदर दुनिया डेरी रहती है

ghar ke bahar dhundhta rahta huun duniya
ghar ke andar duniya-dari rahti hai

rahat indori sad shayari

हम से पहले पहले भी मुसाफिर कई गुजरे होंगे
कम से कम राह के पत्थर तो हटाते जाते

ham se pahle bhi musafir kai guzre honge
kam se kam raah ke patthar to hatate jaate

rahat indori shayri images
Rahat Indori Shayari | राहत इंदौरी शायरी

माँ के क़दमों के निशाँ हैं के दिये रोशन हैं,
ग़ौर से देख यहीं पर कहीं जन्नत होगी….

Maa ke kadamo ke nishan hai ke din roshan hain
Gair se dekh yahi par kahin jannat hogi

rahat indori whatsapp status
rahat indori desh bhakti shayari in hindi

rahat indori love shayari

मैं जब मर जाऊं तो मेरी अलग पहचान लिख देना,
लहू से मेरी पेशानी पे हिन्दुस्तान लिख देना…..

Mai jab mar jaaun to meri alag pehchaan likh dena,
Lahu se meri peshaani pe hindustaan likh dena

ना हमसफ़र सी हमनशि से निकलेगा
हमारे पांव का कांटा हमीं से निकलेगा

na hamsafar na kisi hamnashin se niklega
hamare paanv ka kanta hamin se niklega

Rahat Indori Shayari images
best shayari rahat indori

नफरत का बाज़ार ना बन,
फूल खिला तलवार ना बन….

rahat indori shayari on politics in hindi

Nafrat ka bajaar naa ban,
Ful khilaa talwar naa ban

rahat indori shayri image
best shayari rahat indori

राज़ जो कुछ हो इशारों में बता भी देना,
हाथ जब उससे मिलाना तो दबा भी देना

Raaj jo kuch ho isshare me bata bhi dena
Haath jab usase milana toh daba bhi dena

rahat indori shayri image
rahat indori all shayari

रिश्ता रिश्ता लिख मंज़िल,
रस्ता बन दीवार ना बन

rahat indori sher in hindi

Rishta rishta likh manjil,
Raasta ban diwaar naa ban.

शाखों से टूट जाएं वह पत्ते नहीं हैं हम
आंधी से कोई कह दे कि औकात में रहे

shaḳhon se tuut jaaen vo patte nahin hain ham
andhi se koi kah de ki auqat men rahe

rahat indori shayri

rahat indori shayari hindi

थोड़ी पी ली है….. के कुछ देख सकूँ ये दुनिया,
होश उड़ जाएँ….. अगर होश में आकर देखूं…..

Thodi pi li hai ….ke kuch dekh sakun ye duniya,
Hosh udd jaayei ….agar hosh me aakar dekhu

उसकी याद आई है सांसों जरा आहिस्ता चलो
धड़कनों से भी इबादत में खलल पड़ता है

us ki yaad aai hai sanso zara ahista chalo
dhadkanon se bhi ibadat men ḳhalal padta hai

rahat indori love shayari in hindi

रोज तारों को नुमाइश में खलल पता है
चांद पागल है अंधेरे में निकल पड़ता है

roz taron ko numa.ish men khalal padta hai
chand pagal hai andhere men nikal padta hai

अक़्ल ये सोच के थक जाती है
इतनी नफ़रत कहाँ से आती है !!!

Akl ye soch ke thak jaati hai
Itni nafrat kahan se aati hai …

rahat indori motivational shayari

यक़ीन हो कि न हो, बात तो यक़ीन की है ।
हमारे जिस्म की मिट्टी इसी ज़मीन की है ।
हमारे मुल्क के सब लोग भाई भाई हैं
ये दूरियों की सियासत किसी कमीन की है..

दोस्ती जब किसी से की जाए दुश्मनों की भी राय ली जाए

dosti jab kisi se ki jaae
dushmanon ki bhi raae li jaae

बहुत गुरूर है दरिया को अपने होने पर
जो मेरे प्यार से उलझे तो धज्जियां उड़ा जाएं

bahut ghurur hai dariya ko apne hone par
jo meri pyaas se uljhe to dhajjiyan ud jaaen

नए किरदार आते जा रहे हैं
मगर नाटक पुराना चल रहा है

na.e kirdar aate ja rahe hain
magar natak purana chal raha hai

rahat indori shayri image

इन्हे भी पढ़ें :

मिर्ज़ा ग़ालिब शायरी, गुलजार शायरी,मुन्नवर राणा शायरी

rahat indori romantic shayari

[su_quote cite=” राहत इंदौरी “] [/su_quote][su_quote cite=” राहत इंदौरी “] [/su_quote]

vo chahta tha ki kaasa ḳharid le mera
main us ke taaj ki qimat laga ke lauT aaya

बीमार को मर्ज की दवा देनी चाहिए
मैं पीना चाहता हूं पीला देनी चाहिए


bimar ko maraz ki dava deni chahiye
main piina chahta huun pila deni chahiye

[su_quote cite=” राहत इंदौरी “] ख्याल था कि यह पथराव रोक दें चलकर, जो होश आया तो देखा लहू लहू हम थे [/su_quote]

मेरी ख्वाहिश है कि आंगन में है ना दीवार उठे
मेरे भाई की जमीन तू रख ले

miri ḳhvahish hai ki angan men na divar uthe
mire bhaai mire hisse ki zamin tū rakh le

rahat indori shayari lyrics

बोतलें खोल कर दो
आज दिल खोल कर भी पी जाए

botalen khol kar to pi barson
aaj dil khol kar bhi pi jaae

घर के बाहर ढूंढता रहता हूं दुनिया
घर के अंदर दुनिया डेरी रहती है

ghar ke bahar dhundhata rahta huun duniya
ghar ke andar duniya-dari rahti hai

dr rahat indori shayari in hindi

मैं आखिर कौन सा मौसम तुम्हारे नाम कर देता
हर एक मौसम को गुजर जाने की जल्दी थी

main aḳhir kaun sa mausam tumhare naam kar deta
yahan har ek mausam ko guzar jaane ki jaldi thi

[su_quote cite=” राहत इंदौरी “]यह जरूरी है कि आंखों की भरम कायम रहे नींद रखो या ना रखो ख्वाब में यारी रखो [/su_quote]

ye zarūri hai ki ankhon ka bharam qaaem rahe
nind rakkho ya na rakkho ḳhvab meyari rakho

[su_quote cite=” राहत इंदौरी “]अब तो हर हाथ के पत्थर हमें पहचानता है है उम्र गुजरी है शहर में [/su_quote]

rahat indori ki shayari

ab to har haath ka patthar hamen pahchanta hai
umr guzri hai tire shahr men aate jaate

मैं पर्वतों से लड़ता रहा और चंद लोग
गीली जमीन खोद के फरहाद हो गए

main parbaton se ladta raha aur chand log
giili zamin khod ke farhad ho gae

यह हवाएं उड़ ना जाए लेकर कागज का बदन
दोस्तों तुम मुझ पर कोई पत्थर जरा भारी रखो

rahat indori sher in hindi

ye havaen ud na jaaen le ke kaġhaz ka badan
dosto mujh par koi patthar zara bhari rakho

rahat indori shayri image
rahat indori status in hindi

एक ही नदी के हैं यह दो किनारे दोस्तों
दोस्ताना जिंदगी से मौत से यारी रखो

ek hi nadi ke hain ye do kinare dosto
dostana zindagi se maut se yaari rakho

rahat indori hindi shayari

मैंने अपनी खुशबू आंखों से लहू छलका दिया
एक समंदर कह रहा था मुझको पानी चाहिए

main ne apni khushk ankhon se lahu chhalka diya
ik samundar kah raha tha mujh ko paani chahiye

मजा चखा के ही माना हूं मैं भी दुनिया को
समझ रही थी ऐसे ही छोड़ दूंगा उसे

rahat indori shayari status

maza chakha ke hi maana huun main bhi duniya ko
samajh rahi thi ki aise hi chhod dūnga use

रोज पत्थर की हिमायत में ग़ज़ल लिखते हैं
रोज शीशों से कोई काम निकल पड़ता है

roz patthar ki himayat men ġhazal likhte hain
roz shishon se koi kaam nikal padta hai

मैं आकर दुश्मनों में बस गया हूं
यहां हमदर्द चार

main aa kar dushmanon men bas gaya huun
yahan hamdard hain do-char mere

rahat indori shayari on love

सूरज सितारे चांद साथ मेरे साथ में रहे
जब तक तुम्हारे हाथ मेरे हाथ में रहे

suraj sitare chand mire saat men rahe
jab tak tumhare haat mire haat men rahe

ख्याल था कि यह पथराव रोक दें चलकर,
जो होश आया तो देखा लहू लहू हम थे

khayal tha ki ye pathrav rok den chal kar
jo hosh aaya to dekha lahū lahū ham the

कॉलेज के बच्चे चुप हैं एक कागज की नाव के लिए
चारों तरफ दरिया की सूरत हुई बेकारी है

collage ke sab bachche chup hain kaġhaz ki ik naav liye
charon taraf dariya ki sūrat phaili hui bekari hai

शहर क्या देखें की मंजर में जाले पड़ गए हैं
ऐसी गर्मी है कि पीले फूल काले पड़ गए

rahat indori best shayari in hindi

shahr kya dekhen ki har manzar men jaale pad gae
aisi garmi hai ki piile phuul kaale pad gae

हम अपनी जान के दुश्मन को अपनी जान कहते हैं
मोहब्बत की इसी मिट्टी को हिंदुस्तान कहते हैं

ham apni jaan ke dushman ko apni jaan kahte hain
mohabbat ki isi miTTi ko hindustan kahte hain

एक मुलाकात का जादू की उतरता ही नहीं
तेरी खुशबू मेरी चादर से नहीं जाती है

ik mulaqat ka jaadu ki utarta hi nahin
tiri khusbu miri chadar se nahin jaati hai

rahat indori shayari in hindi love

सच बात कौन है जो सरेआम कह सकें
मैं कह रहा हूं मुझको सजा देनी चाहिए

sach baat kaun hai jo sar-e-am kah sake
main kah raha huun mujh ko saza deni chahiye

rahat indori shayari images

rahat indori shayri image

सिर्फ खंजर ही नहीं आंखों में पानी चाहिए
ए खुदा दुश्मन भी मुझको खानदानी चाहिए


शहर की सारी अलिफ लैला बुड्ढी हो चुकी हैं
शहजादे को कोई ताजा कहानी चाहिए

rahat indori quotes in hindi


मैंने ने सूरज तुझे पूजा नहीं समझा तो है
मेरे हिस्से में भी थोड़ी धूप आनी चाहिए


मेरी कीमत कौन दे सकता है इस बाजार में
तुम जुलेखा हो तुम्हें कीमत लगानी चाहिए


जिंदगी है एक सफर और जिंदगी की राह में
ज़िन्दगी भी आये तो ठोकर लगानी चाहिए


मैंने अपनी खुश्क आंखों से लहू छलका दिया
एक समंदर कह रहा था मुझको पानी चाहिए

sirf ḳhanjar hi nahin ankhon men paani chahiye
ai ḳhuda dushman bhi mujh ko ḳhandani chahiye

shahr ki saari alif-laila.en būḌhi ho chukin
shahzade ko koi taaza kahani chahiye

rahat indori shayari lyrics

main ne ai sūraj tujhe puuja nahin samjha to hai
mere hisse men bhi thoḌi dhuup aani chahiye
meri qimat kaun de sakta hai is bazar men

tum zuleḳha ho tumhen qimat lagani chahiye

zindagi hai ik safar aur zindagi ki raah men, zindagi bhi aa.e to Thokar lagani chahiye


main ne apni ḳhushk ankhon se lahū chhalka diya
ik samundar kah raha tha mujh ko paani chahiye

shayari of rahat indori in hindi

rahat indori whatsapp status

rahat indori poetry in hindi

अंदर का जहर चूम लिया धूल के आ गए
कितने शरीफ लोग थे सब खुल के आ गए


सूरज से जंग जीतने निकले थे बेवकूफ
सारे सिपाही मोम के थे घुल के आ गए


मस्जिद में दूर-दूर कोई दूसरा ना था
आईने को मजे भी तकबुल के आ गए


अनजाने से फिरने लगे हैं इधर-उधर
मौसम हमारे शहर में काबुल के आ गए

andar ka zahr chuum liya dhul ke aa ga.e
kitne sharif log the sab khul ke aa ga.e


sūraj se jang jitne nikle the bevaquf
saare sipahi mom ke the ghul ke aa gae

dr rahat indori ki shayari


masjid men duur duur koi dusra na tha
ham aaj apne aap se mil-jul ke aa ga.e


nindon se jang hoti rahegi tamam umr
ankhon men band ḳhvab agar khul ke aa ga.e


suraj ne apni shakl bhi dekhi thi pahli baar
aine ko maze bhi taqabul ke aa ga.e


anjane saa.e phirne lage hain idhar udhar
mausam hamare shahr men kabul ke aa gae

rahat indori status in hindi

ग़ालिब की मशहूर शायरी पढ़ने के लिए क्लिक करें

rahat indori shayari pic
dr rahat indori ki shayari

बुलाती है…..मगर जाने का नई,
ये दुनिया है, इधर जाने का नई…..

rahat indori shayari on politics in hindi


कुशादा ज़र्फ़ होना चाहिए,
छलक जाने का भर जाने का नई….


सितारे नोंच कर ले जाऊँगा,
मैं खाली हाथ घर जाने का नई….


मेरे बेटे…..किसी से इश्क़ कर,
मगर हद से गुज़र जाने का नई…..

rahat indori latest shayari


वो गर्दन नापता है….नाप ले,
मगर ज़ालिम से डर जाने का नई…..


वबा फैली हुई है हर तरफ,
अभी माहौल मर जाने का नई……

Bulati hai ….magar jaane ka nai,
Ye dunia hai ,idhar jaane ka nai.

rahat indori poetry in hindi


Kushad jarf hona chahiye
Chalak jaane ka bhar jaane ka nai


Sitaare noch kar le jaunga
Mai khali haath ghar jaane ka nai

rahat indori ghazal in hindi


Mere bête…kisi se ishq kar,
Magar had se gujar jaane ka nai


Wo garden naapta hai..naap le,
Magar jaalim se dar jaane ka nai


Wafa faili hui hai har taraf
Abhi mahaul mar jaane ka nai

rahat indori motivational shayari in hindi
rahat indori shayari pic
rahat indori shayri lyrics

मैं लाख कह दूं कि आकाश हूं जमीन हूं मैं
मगर उसे तो खबर कि कुछ नहीं हूं मैं


अजीब लोग हैं मेरी तलाश में मुझको
वहां पर ढूंढ रहे हैं जहां नहीं हूं मैं

rahat indori desh bhakti shayari in hindi


मैं से तो मायूस लौट आया था
मगर किसी ने बताया बहुत हसीन हूं मैं


वह एक किताब जो मनसुख तेरे नाम से है
उसी किताब के अंदर कहीं-कहीं हूं मैं


सितारों आओ मेरी राह में बिखर जाओ
यह मेरा हुक्म है हालांकि कुछ नहीं हूं मैं


यही हुसैन भी गुजरे यही याजिद भी था
हजार रंग में डूबी कोई जमीन हूं मैं

best shayari rahat indori


यह बुड्ढी खबरें तुम्हें कुछ नहीं बताएंगे
मुझे तलाश करो दोस्तों यहीं हूं

Mai laakh kah dun ki akash huun zamin hu mai
magar use to khabar hai ki kuchh nahin hu mai

hindi shayari rahat indori


ajiib log hain meri talash men mujh ko
vahan pe dhund rahe hain jahan nahin hu mai


main a.inon se to mayūs laut aaya tha
magar kisi ne bataya bahut hasin hu mai


vo zarre zarre men maujūd hai magar main bhi
kahin kahin huun kahan huun kahin nahin hu mai

rahat indori attitude shayari


vo ik kitab jo mansūb tere naam se hai
usi kitab ke andar kahin kahin hu mai


sitaro aao miri raah men bikhar jaao
ye mera hukm hai halanki kuchh nahin hu mai


yahin husain bhi guzre yahin yazid bhi tha
hazar rang men Duubi hui zamin hu mai


ye budhhi qabren tumhen kuchh nahin bataengi
mujhe talash karo dosto yahin hu mai

rahat indori shayari photo
shayari of rahat indori in hindi

घर से यह सोचकर निकला हूं कि मर जाना है
अब कोई राह दिखा दे कि किधर जाना है


जिस्म से साथ निभाने की मत उम्मीद रखो
इस मुसाफिर को तो रास्ते में ठहर जाना है

rahat indori ke sher


मौत लम्हे की सदा जिंदगी उम्र ओं की पुकार
मैं यही सोच कर जिंदा हूं कि मर जाना है


नशा ऐसा था कि मैंखाने को दुनिया समझा
होश आया तो ख्याल आया कि घर जाना है
मेरे जज्बे की बड़ी कदर है लोगों में मगर
जज्बे को मेरे साथ ही मर जाना है

ghar se ye soch ke nikla huun ki mar jaana hai
ab koi raah dikha de ki kidhar jaana hai


jism se saath nibhane ki mat ummid rakho
is musafir ko to raste men Thahar jaana hai
maut lamhe ki sada zindagi umron ki pukar
main yahi soch ke zinda huun ki mar jaana hai
nashsha aisa tha ki mai-ḳhane ko duniya samjha


hosh aaya to ḳhayal aaya ki ghar jaana hai
mire jazbe ki badi qadr hai logon men magar
mere jazbe ko mire saath hi mar jaana hai

love shayari by rahat indori

rahat indori shayari photo
rahat indori shayari images

अंदर का जहर चूम लिया धूल के आ गए
कितने शरीफ लोग थे सब खुल के आ गए
सूरज से जंग जीतने निकले थे बेवकूफ
सारे सिपाही मोम के थे घुल के आ गए


मस्जिद में दूर-दूर कोई दूसरा ना था
आईने को मजे भी तकबुल के आ गए
अनजाने से फिरने लगे हैं इधर-उधर
मौसम हमारे शहर में काबुल के आ गए

andar ka zahr chuum liya dhul ke aa gae
kitne sharif log the sab khul ke aa gae
suraj se jang jitne nikle the bevaquf
saare sipahi mom ke the ghul ke aa gae
masjid men duur duur koi dūsra na tha


ham aaj apne aap se mil-jul ke aa aa gae
nindon se jang hoti rahegi tamam umr
ankhon men band khvab agar khul ke aaaa gae
suraj ne apni shakl bhi dekhi thi pahli baar
aine ko maze bhi taqabul ke aa aa gae


anjane saa.e phirne lage hain idhar udhar
mausam hamare shahr men kabul ke aa gae

rahat indori shayari in hindi

सभी का ख़ून है शामिल यहां की मिट्टी में,
किसी के बाप का हिंदुस्तान थोड़ी है

अजनबी ख़्वाहिशें , सीने में दबा भी न सकूँ |
ऐसे ज़िद्दी हैं परिंदे ,  कि उड़ा भी न सकूँ ||

आँख में पानी रखो , होंटों पे चिंगारी रखो |
ज़िंदा रहना है तो , तरकीबें बहुत सारी रखो ||

रोज़ तारों को नुमाइश  में , खलल पड़ता हैं |
चाँद पागल हैं , अंधेरे में निकल पड़ता हैं ||

उसकी याद आई हैं , साँसों ज़रा धीरे चलो |
धड़कनो से भी इबादत में ,  खलल पड़ता हैं ||

ये हादसा तो किसी दिन , गुज़रने वाला था |
मैं बच भी जाता तो , इक रोज़ मरने वाला था ||

ना त-आरूफ़ ना त-अल्लुक हैं , मगर दिल अक्सर |
नाम सुनता हैं , तुम्हारा तो उछल पड़ता हैं ||

अंदर का ज़हर चूम लिया , धुल के आ गए |
कितने शरीफ़ लोग थे , सब खुल के आ गए ||

दो गज सही ये  , मेरी मिलकियत तो हैं |
ऐ मौत तूने मुझे  , ज़मीदार कर दिया ||

rahat indori shayari on love

मुझसे पहले वो किसी और की थी , मगर कुछ शायराना चाहिए था |
चलो माना ये छोटी बात है , पर तुम्हें सब कुछ बताना चाहिए था ||

अब हम मकान में ताला लगाने वाले हैं
पता चला हैं की मेहमान आने वाले हैं

आँखों में पानी रखों, होंठो पे चिंगारी रखो
जिंदा रहना है तो तरकीबे बहुत सारी रखो
राह के पत्थर से बढ के, कुछ नहीं हैं मंजिलें
रास्ते आवाज़ देते हैं, सफ़र जारी रखो

जागने की भी, जगाने की भी, आदत हो जाए
काश तुझको किसी शायर से मोहब्बत हो जाए
दूर हम कितने दिन से हैं, ये कभी गौर किया
फिर न कहना जो अमानत में खयानत हो जाए

rahat indori sher shayari

गुलाब, ख्वाब, दवा, ज़हर, जाम  क्या क्या हैं
में आ गया हु बता इंतज़ाम क्या क्या हैं
फ़क़ीर, शाह, कलंदर, इमाम क्या क्या हैं
तुझे पता नहीं तेरा गुलाम क्या क्या हैं

कभी महक की तरह हम गुलों से उड़ते  हैं
कभी धुएं की तरह पर्वतों से उड़ते हैं
ये केचियाँ हमें उड़ने से खाक रोकेंगी
की हम परों से नहीं हौसलों से उड़ते हैं

हर एक हर्फ़ का अंदाज़ बदल रखा हैं
आज से हमने तेरा नाम ग़ज़ल रखा हैं
मैंने शाहों की मोहब्बत का भरम तोड़ दिया
मेरे कमरे में भी एक “ताजमहल” रखा हैं

rahat indori shayari lyrics in hindi

जवानिओं में जवानी को धुल करते हैं
जो लोग भूल नहीं करते, भूल करते हैं
अगर अनारकली हैं सबब बगावत का
सलीम हम तेरी शर्ते कबूल करते हैं

इश्क ने गूथें थे जो गजरे नुकीले हो गए
तेरे हाथों में तो ये कंगन भी ढीले हो गए
फूल बेचारे अकेले रह गए है शाख पर
गाँव की सब तितलियों के हाथ पीले हो गए


सरहदों पर तनाव हे क्या
ज़रा पता तो करो चुनाव हैं क्या
शहरों में तो बारूदो का मौसम हैं
गाँव चलों अमरूदो का मौसम हैं

shayari rahat indori in hindi

लवे दीयों की हवा में उछालते रहना
गुलो के रंग पे तेजाब डालते रहना
में नूर बन के ज़माने में फ़ैल जाऊँगा
तुम आफताब में कीड़े निकालते रहना


जुबा तो खोल, नज़र तो मिला,जवाब तो दे
में कितनी बार लुटा हु, मुझे हिसाब तो दे
तेरे बदन की लिखावट में हैं उतार चढाव
में तुझको कैसे पढूंगा, मुझे किताब तो दे


सफ़र की हद है वहां तक की कुछ निशान रहे
चले चलो की जहाँ तक ये आसमान  रहे
ये क्या उठाये कदम और आ गयी मंजिल
मज़ा तो तब है के पैरों में कुछ थकान रहे

dr rahat indori shayari in hindi lyrics

उसकी कत्थई आंखों में हैं जंतर मंतर सब
चाक़ू वाक़ू, छुरियां वुरियां, ख़ंजर वंजर सब


जिस दिन से तुम रूठीं,मुझ से, रूठे रूठे हैं
चादर वादर, तकिया वकिया, बिस्तर विस्तर सब


मुझसे बिछड़ कर, वह भी कहां अब पहले जैसी है
फीके पड़ गए कपड़े वपड़े, ज़ेवर वेवर सब

जा के कोई कह दे, शोलों से चिंगारी से
फूल इस बार खिले हैं बड़ी तैयारी से

shayari by rahat indori in hindi


बादशाहों से भी फेके हुए सिक्के ना लिए
हमने खैरात भी मांगी है तो खुद्दारी से


बन के इक हादसा बाज़ार में आ जाएगा
जो नहीं होगा वो अखबार में आ जाएगा

चोर उचक्कों की करो कद्र, की मालूम नहीं
कौन, कब, कौन सी  सरकार में आ जाएगा

rahat indori shayari in hindi lyrics

लोग हर मोड़ पे रुक रुक के संभलते क्यों हैं
इतना डरते हैं तो फिर घर से निकलते क्यों हैं
मोड़  होता हैं जवानी का संभलने  के लिए
और सब लोग यही आके फिसलते क्यों हैं


साँसों की सीडियों से उतर आई जिंदगी
बुझते हुए दिए की तरह, जल रहे हैं हम
उम्रों की धुप, जिस्म का दरिया सुखा गयी
हैं हम भी आफताब, मगर ढल रहे हैं हम


इश्क में पीट के आने के लिए काफी हूँ
मैं निहत्था ही ज़माने  के लिए काफी हूँ
हर हकीकत को मेरी, खाक समझने वाले
मैं तेरी नींद उड़ाने के लिए काफी हूँ
एक अख़बार हूँ, औकात ही क्या मेरी
मगर शहर में आग लगाने के लिए काफी हूँ

shayari rahat indori hindi


दिलों में आग, लबों पर गुलाब रखते हैं
सब अपने चहेरों पर, दोहरी नकाब रखते हैं
हमें चराग समझ कर भुझा ना पाओगे
हम अपने घर में कई आफ़ताब रखते हैं

Ab Na Main Hun, Na Baaki Hai Zamane Mere,
Fir Bhi MashHoor Hain Shaharon Mein Fasane Mere,
Zindagi Hai Toh Naye Zakhm Bhi Lag Jayenge,
Ab Bhi Baaki Hain Kayi Dost Puraane Mere.

rahat indori dosti shayari


अब ना मैं हूँ, ना बाकी हैं ज़माने मेरे​,
फिर भी मशहूर हैं शहरों में फ़साने मेरे​,
ज़िन्दगी है तो नए ज़ख्म भी लग जाएंगे​,
अब भी बाकी हैं कई दोस्त पुराने मेरे।

Loo Bhi Chalti Thi Toh Baad-e-Shaba Kehte The,
Paanv Failaye Andheron Ko Diya Kehte The,
Unka Anjaam Tujhe Yaad Nahi Hai Shayad,
Aur Bhi Log The Jo Khud Ko Khuda Kehte The.


लू भी चलती थी तो बादे-शबा कहते थे,
पांव फैलाये अंधेरो को दिया कहते थे,
उनका अंजाम तुझे याद नही है शायद,
और भी लोग थे जो खुद को खुदा कहते थे।

Haath Khali Hain Tere Shahar Se Jate Jate,
Jaan Hoti Toh Meri Jaan Lutate Jate,
Ab Toh Har Haath Ka Patthar Humein Pehchanta Hai,
Umr Gujri Hai Tere Shahar Mein Aate Jate.

shayari of rahat indori


हाथ ख़ाली हैं तेरे शहर से जाते जाते,
जान होती तो मेरी जान लुटाते जाते,
अब तो हर हाथ का पत्थर हमें पहचानता है,
उम्र गुज़री है तेरे शहर में आते जाते।

Chehron Ke Liye Aayine Kurbaan Kiye Hain,
Iss Shauk Mein Apne Bade Nuksaan Kiye Hain,
Mehfil Mein Mujhe Gaaliyan Dekar Hai Bahut Khush,
Jis Shakhs Par Maine Bade Ehsaan Kiye Hain.

rahat indori sad shayari in hindi


चेहरों के लिए आईने कुर्बान किये हैं,
इस शौक में अपने बड़े नुकसान किये हैं,​
महफ़िल में मुझे गालियाँ देकर है बहुत खुश​,
जिस शख्स पर मैंने बड़े एहसान किये है।

Teri Har Baat Mohabbat Mein Ganwara Karke,
Dil Ke Bajaar Mein Baithe Hain Khasaara Karke,
Main Woh Dariya Hun Ke Har Boond Bhanwar Hai Jiski,
Tumne Achha Hi Kiya Hai Mujhse Kinaara Karke.


​तेरी हर बात ​मोहब्बत में गँवारा करके​,
​दिल के बाज़ार में बैठे हैं खसारा करके​,
​मैं वो दरिया हूँ कि हर बूंद भंवर है जिसकी​,​​
​तुमने अच्छा ही किया मुझसे किनारा करके।

rahat indori shayari in hindi pdf

rahat indori shayari in hindi pdf download

इन्हे भी पढ़ें

मिर्ज़ा ग़ालिब शायरी, गुलजार शायरी,मुन्नवर राणा शायरी

दोस्ती शायरी
हैप्पी बर्थडे शायरी
रोमांटिक शायरी
लव शायरी
Sad Shayari

Dosti Shayari in hindi – दोस्ती शायरी

दोस्ती ( dosti shayari in hindi ) केवल लोगों के बीच स्नेह का रिश्ता नहीं है, यह देखभाल, प्रशंसा, चिंता, प्यार या पसंद की भावनाओं का पर्याय है। दोस्त जरूरी लोग होते हैं क्यूंकि वे आपको हर चीज बिना शर्त प्यार करते हैं.आप जैसे होते है आप उनको मंजूर होते है। दोस्त आपको किसी और चीज़ो के कारण आपके प्रति पूर्वाग्रह नहीं रखते ।

हिंदी और अंग्रेजी में Dosti Shayari in hindi | दोस्ती शायरी , फ्रेंडशिप शायरी ,हिंदी दोस्ती शायरी के हमारे बेहतरीन संग्रह के साथ आप दोस्तों के साथ साझा कर सकते हैं.

dosti shayari

2 line dosti shayari, 2 line dosti shayari in hindi, 2 line dosti shayri, 2 line dosti status in hindi, 2 line friendship shayari, 2 line friendship shayari in hindi, 2 line shayari on dosti, 2 line shayari on friendship, about friend in hindi, about friends in hindi, about friendship in hindi, attitude dosti shayari, attitude dosti status in hindi, attitude friendship status, attitude friendship status hindi, attitude friendship status in hindi, attitude status for friends, awesome shayari on friendship, beautiful dosti shayari, beautiful friendship shayari, beautiful lines on friendship in hindi, beautiful shayari for friends, beautiful shayari in hindi on friendship, beautiful shayari on friendship, best dost, best dosti, best dosti shayari, best dosti shayari hindi, best dosti shayari in hindi, best dosti shayri, best dosti sms, best dosti sms in hindi, best dosti status, best dosti status in hindi, best friend friendship shayari, best friend hindi quotes, best friend hindi shayari, best friend hindi sms, best friend hindi status, best friend in hindi, best friend ke liye shayari, best friend love shayari, best friend msg in hindi, best friend shayari, best friend shayari hindi, best friend shayari in hindi, best friend shayri, best friend shayri in hindi, best friend sms hindi, best friend sms hindi shayari, best friend sms in hindi, best friend sms in hindi shayari, best friend status hindi, best friends shayari, best friends shayari in hindi, best friends sms in hindi, best friendship shayari, best friendship shayari in hindi, best friendship shayaris, best friendship sms in hindi, best frnd sms in hindi, best hindi dosti shayari, best hindi friendship sms, best hindi friendship status, best hindi shayari for friends, best hindi shayari on friendship, best hindi status for friends, best shayari dosti, best shayari for friend, best shayari for friends, best shayari for friends in hindi, best shayari for friendship, best shayari friendship, best shayari in hindi for friends, best shayari in images, best shayari of friendship, best shayari on dosti, best shayari on friendship, best shayari on friendship in hindi, best shayri for best friend, best shayri for friends, best shayri on friendship, best status for best friend in hindi, best status on friendship in hindi, bestshayari in images,

बात ना करके रुला ना दीजिये
गुपचुप रह के सजा ना दीजिये
ना दे सके ख़ुशी तो कभी गम ना देंगे
दोस्त है आपके यु भुला ना दीजिये

Baat naa karke rula naa dijiye
Gupchup reh ke saja na diijiye
Naa de sake khushi to kabhi gm na denge
Dost hai aapke yun bhula naa dijiye

पत्थर तो हज़ारों ने मारे थे मुझे लेकिन
जो दिल पे लगा आ कर इक दोस्त ने मारा है
सुहैल अज़ीमाबादी

अक़्ल कहती है दोबारा आज़माना जहल है
दिल ये कहता है फ़रेब-ए-दोस्त खाते जाइए
माहिर-उल क़ादरी

हटाए थे जो राह से दोस्तों की
वो पत्थर मिरे घर में आने लगे हैं
ख़ुमार बाराबंकवी

दोस्ती ख़्वाब है और ख़्वाब की ता’बीर भी है
रिश्ता-ए-इश्क़ भी है याद की ज़ंजीर भी है
अज्ञात

friendship shayari

bewafai bhojpuri, bff shayari, bff status in hindi, bhojpuri bewafai, bhojpuri comedy shayari, bhojpuri hindi shayari, bhojpuri love shayari in hindi, bhojpuri me shayari, bhojpuri romantic shayari, bhojpuri sad shayari, bhojpuri shayari in hindi, bhojpuri shayari love, bhojpuri status in hindi, break friendship status, broken friendship shayari, broken friendship shayari in hindi, broken friendship sms, broken friendship status for whatsapp in hindi, broken friendship status in hindi, broken friendship status in hindi for whatsapp, dil dosti shayari, dil se dosti shayari in hindi, dosati, doshti, doshti shayri, dost hindi, dost hindi shayari, dost k liye shayari, dost ke liye shayari, dost ke liye shayari hindi me, dost ke liye shayri, dost ki shayari, dost ki shayari hindi, dost ki shayari in hindi, dost ki shayri, dost ki yaad shayari, dost love shayari, dost msg, dost par shayari, dost pe shayari, dost sad shayari, dost sayari, dost shari, dost shayari, dost shayari hindi, dost shayri, dost shyari, dost sms, dost status, dost status in hindi, dosti, dosti 2 line shayari, dosti and love shayari, dosti attitude shayari, dosti attitude shayari in hindi, dosti attitude status hindi, dosti attitude status in hindi, dosti best shayari, dosti funny shayari, dosti hindi, dosti hindi message, dosti hindi msg, dosti hindi quotes, dosti hindi shayari, dosti hindi shayri, dosti hindi sms, dosti hindi status, dosti in hindi, dosti judai shayari in hindi, dosti ke liye shayari, dosti ke sms, dosti ke upar shayari, dosti ki sad shayari, dosti ki shayari, dosti ki shayari hindi, dosti ki shayari hindi mai, dosti ki shayari in hindi, dosti ki shayri, dosti ki yaad shayari in hindi, dosti lines, dosti lines in hindi, dosti love shayari, dosti love shayari in hindi, dosti love shayri, dosti love sms, dosti love sms in hindi, dosti love status, dosti massage in hindi, dosti message in hindi, dosti messages in hindi, dosti msg, dosti par shayari, dosti par shayari. in hindi, dosti par sher, dosti pe shayari, dosti pe shayri, dosti pe sher, dosti pe status, dosti poetry, dosti pyar shayari, dosti pyar shayari in hindi, dosti pyar sms, dosti romantic shayari, dosti sad shayari, dosti sad shayri, dosti sad sms, dosti sad status, dosti sad status in hindi, dosti sayari, dosti sayeri, dosti sayri, dosti shayari, dosti shayari 2 lines,

दोस्त भुलाये नहीं जाते गलत बात है
रिश्ते मिटाये नहीं जाते वो मोहब्बत साथ है
ना मानो तो खाली हाथ है
साथ रहेंगे हमेशा वो केवल आपके जज़्बात है

Dost bhulaaye nahi jaate galat baat hai
Rishte mitaaye nahi jaate wo mohabbat saath hai
Naa maano toh khaali haath hai
Saath rahenge hamesha wo kewal aapke jazzbaat hai

जो दोस्त हैं वो माँगते हैं सुल्ह की दुआ
दुश्मन ये चाहते हैं कि आपस में जंग हो
लाला माधव राम जौहर

ख़ुदा के वास्ते मौक़ा न दे शिकायत का
कि दोस्ती की तरह दुश्मनी निभाया कर
साक़ी फ़ारुक़ी

दोस्त दो-चार निकलते हैं कहीं लाखों में
जितने होते हैं सिवा उतने ही कम होते हैं
लाला माधव राम जौहर

best friend hindi shayari in english

dosti shayari com, dosti shayari dosti shayari, dosti shayari funny, dosti shayari hindi, dosti shayari hindi mai, dosti shayari hindi me, dosti shayari in hindi, dosti shayari in hindi 2 lines, dosti shayari in hindi funny, dosti shayari in hindi sad, dosti shayari sad, dosti shayari sms, dosti shayari status, dosti shayari two lines, dosti shayaris, dosti shayeri, dosti shayri, dosti shayri com, dosti shayri hindi, dosti shayri in hindi, dosti sher shayari, dosti shyari, dosti sms, dosti sms com, dosti sms hindi new, dosti sms in hindi, dosti sms in hindi new, dosti sms sad, dosti sms shayari, dosti sms shayari in hindi, dosti status, dosti status hindi, dosti status in hindi, dosti status in hindi one line, dosti wala shayari, dosti wali shayari, dosti yaad shayari in hindi, dosti yaari shayari in hindi, dostii, dosto ki shayari hindi main, dosto ki shayari hindi me, dosto ki shayari in hindi, duniya ka sach shayari, emotional friendship quotes in hindi, emotional friendship sms in hindi, emotional friendship status, emotional lines on friendship in hindi, emotional shayari in hindi for friends, emotional shayari on friendship, facebook dosti shayari hindi, fb status in hindi dosti, for friends status, frandship status, frdship status, freinds shayri, freinds status, freindship status, frends status, frendship status, friedship status, friend attitude status in hindi, friend dosti, friend dosti com, friend hindi, friend hindi shayari, friend hindi sms, friend in hindi, friend judai shayari, friend ki shayari, friend love shayari, friend sad shayari, friend sad shayri, friend sayari, friend sayri, friend shayari, friend shayari hindi, friend shayari in hindi, friend shayari sms, friend shayri, friend shayri hindi, friend shayri in hindi, friend ship shayri in hindi, friend ship shyari, friend ship status, friend ship status in hindi, friend sms hindi, friend sms in hindi, friend status hindi, friend status in hindi, friendly shayari, friends attitude status hindi, friends attitude status in hindi, friends hindi, friends hindi shayari, friends hindi sms, friends in hindi, friends love shayari, friends msg in hindi, friends sad shayari, friends sad status, friends sayari, friends sayri, friends shari, friends shayari, friends shayari hindi, friends shayari in hindi, friends shayri, friends shayri in hindi, friends sms hindi, friends sms in hindi, friends sms in hindi shayari, friends status, friends status in hindi, friendship attitude hindi status, friendship attitude quotes in hindi, friendship attitude shayari, friendship attitude status in hindi, friendship best shayari, friendship broken quotes in hindi, friendship broken shayari, friendship broken status, friendship broken status in hindi, friendship day 2017 quotes in hindi, friendship day hindi quotes, friendship day hindi shayari, friendship day hindi sms, friendship day images hindi,

दोस्ती कोई मंजिल नहीं पर दमदार सफर है
मुश्किलें होंगी कई पर मजेदार मगर है
याद रखियेगा हमें अपने दिल में
हाजिर हो जायेंगे तुरंत पूछिए तो तू किधर है

आ गया ‘जौहर’ अजब उल्टा ज़माना क्या कहें
दोस्त वो करते हैं बातें जो अदू करते नहीं
लाला माधव राम जौहर

फ़ाएदा क्या सोच आख़िर तू भी दाना है ‘असद’
दोस्ती नादाँ की है जी का ज़ियाँ हो जाएगा
मिर्ज़ा ग़ालिब

दोस्ती की तुम ने दुश्मन से अजब तुम दोस्त हो
मैं तुम्हारी दोस्ती में मेहरबाँ मारा गया
इम्दाद इमाम असर

dosti shayari in hindi

Dosti koi manjil nahi par damdaar safar hai
Kai mushkile hongi par majedaar magar hai
Yaad rakhiye hame apne dil me
Haajir ho jayenge turant puchiye toh ek baar tu kidhar hai

friendship day images in hindi, friendship day in hindi, friendship day quotes hindi, friendship day quotes in hindi, friendship day quotes in hindi with images, friendship day quotes with images in hindi, friendship day shayari, friendship day shayari english, friendship day shayari hindi, friendship day shayari in english, friendship day shayari in hindi, friendship day shayari in hindi with images, friendship day shayari wallpaper in hindi, friendship day shayri, friendship dosti shayari, friendship funny status in hindi, friendship hindi, friendship hindi msg, friendship hindi quotes, friendship hindi shayari, friendship hindi shayri, friendship hindi sms, friendship hindi status, friendship in hindi, friendship in hindi shayari, friendship ki shayari, friendship lines in hindi, friendship love shayari, friendship love shayari in hindi, friendship love status in hindi, friendship messages in hindi shayari, friendship msg hindi, friendship poetry in hindi, friendship quotes hindi, friendship quotes in hindi, friendship quotes in hindi funny, friendship sad quotes in hindi, friendship sad shayari, friendship sad status, friendship sad status in hindi, friendship satus, friendship sayari, friendship sayeri, friendship sayri, friendship shayari, friendship shayari com, friendship shayari funny, friendship shayari in hindi, friendship shayari in hindi 2 lines, friendship shayari in hindi dosti, friendship shayari in hindi language, friendship shayari sad in hindi, friendship shayari sms in hindi, friendship shayari status, friendship shayaries, friendship shayaris, friendship shayaris in hindi, friendship shayeri, friendship shayri, friendship shayri in hindi, friendship shyari, friendship sms hindi, friendship sms hindi shayari dosti, friendship sms in hindi, friendship sms in hindi shayari, friendship sms shayari, friendship status, friendship status hindi, friendship status in hindi, friendship status in hindi attitude, friendship status in hindi one line, friendship staus, friendship stetus, friendship ststus, friendships status, frienship status, frinds shayari, frinds shayri, frindship status, frnd sms in hindi, frnds msg in hindi, frnds shyari, frnds sms in hindi, frnds status, frnds status in hindi, frndship hindi status, frndship status, funny bhojpuri shayari in hindi, funny dosti shayari in hindi, funny dosti shayri, funny dosti sms, funny dosti status, funny dosti status in hindi, funny friendship shayri, funny friendship sms in hindi, funny hindi shayari on dosti, funny hindi status for friends, funny shayari on dosti, funny shayari on dosti in hindi, funny shayari on friendship, funny shayri on dosti, good friend in hindi, good friend shayari, good friend sms in hindi, good friendship quotes in hindi, good friendship shayari, good morning friendship shayari in hindi, good morning hindi shayari for friends, good shayari for friends, good shayari in hindi on dosti, happy friendship day hindi, happy friendship day hindi quotes, happy friendship day hindi sms, happy friendship day in hindi, happy friendship day quotes hindi, happy friendship day shayari, happy friendship day shayari hindi, happy friendship day shayari in hindi, happy friendship shayari, happy shayari for friends, hindi best friend shayari, hindi best friend status, hindi bff, hindi dost, hindi dosti, hindi dosti shayari, hindi dosti shayari collection, hindi dosti shayari sms, hindi dosti shayri, hindi dosti sms, hindi dosti status, hindi friend, hindi friend shayari, hindi friend sms, hindi friends shayari, hindi friends sms, hindi friendship, hindi friendship msg, hindi friendship quotes, hindi friendship shayari, hindi friendship shayri, hindi friendship sms latest, hindi friendship status, hindi me shayari dosti, hindi message for friend, hindi messages for friends, hindi msg for friend, hindi nagme, hindi quotes about friendship, hindi quotes on dosti, hindi quotes on friendship, hindi shayari about friendship, hindi shayari best friend, hindi shayari dosti, hindi shayari dosti friendship, hindi shayari dosti funny, hindi shayari dosti ke liye, hindi shayari dosti ki, hindi shayari dosti ki yaad, hindi shayari dosti love, hindi shayari for best friend, hindi shayari for dosti, hindi shayari for friend, hindi shayari for friends, hindi shayari for friendship, hindi shayari friend, hindi shayari friends, hindi shayari friendship, hindi shayari friendship love, hindi shayari funny dosti, hindi shayari in friends, hindi shayari love dosti, hindi shayari on dosti, hindi shayari on dosti ki yaad, hindi shayari on friends, hindi shayari on friendship, hindi shayari on friendship love, hindi shayari sad dosti, hindi shayari sms love friendship, hindi shayaris on friendship, hindi shayri dosti
tik tok shayari

अगर तुम्हारी अना ही का है सवाल तो फिर
चलो मैं हाथ बढ़ाता हूँ दोस्ती के लिए
अहमद फ़राज़

दोस्ती जब किसी से की जाए
दुश्मनों की भी राय ली जाए
राहत इंदौरी

मोहब्बतों में दिखावे की दोस्ती न मिला
अगर गले नहीं मिलता तो हाथ भी न मिला
बशीर बद्र

दोस्ती में गलती करो कभी तो सुधार लो
दोस्त की जरूरत में दुसरो से उधार लो
दोस्त अगर ज्यादा करीब हो,
हंसी मजाक में उसकी आरपार लो

Dosti me galti karo kabhi toh sudhar lo
Dost ki jaroorat me dusro se udhar lo
Dost agar jyada karib ho
Hansi majaak me uski aar paar lo

dosti ki shayari

 hindi shayri for best friend, hindi shayri for friends, hindi shayri friendship, hindi shayri on dosti, hindi shayri on friendship, hindi sher shayari dosti, hindi sms dosti, hindi sms dosti shayari friendship, hindi sms for friend, hindi sms for friends, hindi sms friend, hindi sms friends, hindi sms love friendship, hindi sms messages dosti, hindi sms shayari dosti, hindi status, hindi status dosti, hindi status for dosti, hindi status on dosti, hindi status on friendship, humko aaj kal hai intezar, jealous shayari hindi, jealous shayari in hindi, jealous status in hindi, judai hindi shayari images, latest dosti shayari, latest dosti sms in hindi, latest friendship shayari, latest friendship status, latest friendship status in hindi, lines for friends in hindi, lines on dosti, lines on friendship in hindi, love and friendship quotes in hindi, love and friendship shayari, love dosti, love dosti shayari, love dosti shayari sms, love dosti shayri, love dosti sms, love friendship quotes in hindi, love friendship shayari, love friendship shayari in hindi, love friendship shayri, love friendship sms hindi, love friendship sms in hindi, love friendship status, love friendship status in hindi, love shayari dosti, love shayari for best friend, love shayari friend, love shayari in hindi for friend, lovely dosti shayari, lovely friends status, lovely friendship quotes in hindi, lovely friendship shayari, lovely friendship status, lovely shayari for friends, manana shayari, massage in hindi dosti, mere baad kisko sataoge, message in hindi for friends, messages in hindi for friends, milan hai judai hai, missing friends shayari, missing shayari for friend, mohabbat bhojpuri, morning shayari for friend, msg on friendship in hindi, my best friend shayari, new dosti shayari, new friend shayari, new friendship quotes in hindi, new friendship shayari, new friendship shayari in hindi, new friendship shayri, new friendship sms in hindi, new status in hindi, nice dosti shayari, nice shayari for friends, nice shayari on friendship, nice sms in hindi for friend, one line friendship status in hindi, pyaar dosti hai, pyaar shayari, pyar bhari dosti shayari, pyar dosti hai, pyar dosti shayari hindi, pyar ka sayari, pyar ki sachai shayari, pyar ki shayri, pyar me judai shayari, quotes on broken friendship in hindi, romantic dosti shayari, romantic friendship shayari, romantic shayari for friend, romantic shayari in hindi for friend, sad dosti shayari, sad dosti shayri, sad dosti sms, sad dosti sms in hindi, sad dosti status in hindi, sad friends status, sad friendship quotes in hindi, sad friendship shayari, sad friendship shayari in hindi, sad friendship sms in hindi, sad friendship status, sad quotes on broken friendship in hindi, sad shayari dosti, sad shayari dosti par, sad shayari for best friend, sad shayari for best friend in hindi, sad shayari for friend, sad shayari for friends, sad shayari for friends in hindi, sad shayari friend, sad shayari in friendship, sad shayari in hindi for best friend, sad shayari in hindi for dosti, sad shayari in hindi for friend, sad shayari on dosti, sad shayari on friendship, sad sms in hindi for friend, sad status for best friend in hindi, sad status for friends in hindi, sad status in hindi for friendship, sare hindi, sayri dosti, sayri dosti ki, shayari about dosti, shayari about friendship, shayari about friendship in hindi, shayari best friend hindi, shayari bhojpuri me, shayari com in hindi for best friends, shayari dil se dosti, shayari dost, shayari dosti, shayari dosti hindi, shayari dosti in hindi, shayari dosti in hindi new, shayari dosti ke liye hindi, shayari dosti ki, shayari dosti ki hindi, shayari dosti ki yaad, shayari dosti par, shayari dosti sad, shayari for a friend, shayari for best friend, shayari for best friend in hindi, shayari for best friends, shayari for dost, shayari for dosti, shayari for dosti in hindi, shayari for friend, shayari for friend in hindi, shayari for friends, shayari for friends hindi, shayari for friends in hindi, shayari for friends in hindi sad, shayari for friendship, shayari for friendship in hindi, shayari for frnds, shayari for good friend, shayari for new friend, shayari friend, shayari friend hindi, shayari friend ke liye, shayari friends, shayari friends hindi, shayari friendship, shayari friendship hindi, shayari friendship in hindi,
tik tok shayari

कारनामें करके सजा से डरते थे
किसी ज़माने में दवा से डरते थे ,
गैरो के सितम कम डराते है
हम तो दोस्तों की खफा से डरते थे

Karnaame karke saja se darte the,
Kisi jamane me dawa se darte the,
Gairo ke sitam kam daraate hain
Ham toh dosti ki khafa se darte the

भूल शायद बहुत बड़ी कर ली
दिल ने दुनिया से दोस्ती कर ली
बशीर बद्र

मुझे दोस्त कहने वाले ज़रा दोस्ती निभा दे
ये मुतालबा है हक़ का कोई इल्तिजा नहीं है
शकील बदायुनी

लोग डरते हैं दुश्मनी से तिरी
हम तिरी दोस्ती से डरते हैं
हबीब जालिब

best dosti shayari

shayari friendship love, shayari hindi dosti, shayari hindi for friend, shayari hindi for friends, shayari hindi friends, shayari hindi friendship, shayari hindi love friendship, shayari in dosti, shayari in friendship, shayari in friendship in hindi, shayari in hindi dosti, shayari in hindi dosti funny, shayari in hindi for best friend, shayari in hindi for dosti, shayari in hindi for friend, shayari in hindi for friends, shayari in hindi for friendship, shayari in hindi friendship, shayari in hindi on dosti, shayari in hindi on friends, shayari in hindi on friendship, shayari in hindi sad dosti, shayari new dosti, shayari of best friend, shayari of dosti, shayari of friend, shayari of friends, shayari of friendship, shayari of friendship in hindi, shayari on best friend, shayari on best friends, shayari on broken friendship, shayari on dost, shayari on dosti, shayari on dosti and love, shayari on dosti and love in hindi, shayari on dosti broken, shayari on dosti funny, shayari on dosti in hindi, shayari on dosti in hindi sad, shayari on friend, shayari on friends, shayari on friends in hindi, shayari on friendship, shayari on friendship and love, shayari on friendship and love in hindi, shayari on friendship day in hindi, shayari on friendship in hindi, shayari on frnds, shayari on love and friendship, shayari on old friends, shayari on pyar, shayari on true friendship, shayari on trust in hindi, shayari pyaar, shayari pyar, shayari sad dosti, shayari true friend, shayari with friends, shayaris for friends, shayaris on friendship, shayaris on friendship in hindi, shayri about friendship, shayri best friend, shayri dosti, shayri dosti funny, shayri dosti hindi, shayri for best friend, shayri for best friend in hindi, shayri for dost, shayri for dosti, shayri for friend, shayri for friends, shayri for friends in hindi, shayri friendship, shayri hindi dosti, shayri in friendship, shayri in hindi dosti, shayri in hindi for friends, shayri in hindi on friendship, shayri of dosti, shayri of friendship, shayri on best friend, shayri on dost, shayri on dosti, shayri on dosti in hindi, shayri on friends, shayri on friendship, shayri on friendship in hindi, sher for friends, sher on dosti, sher shayari for friends, sher shayari hindi dosti, shyari on dosti, sms dil se dosti, sms dosti hindi, sms dosti hindi latest, sms dosti yaad hindi, sms for friend in hindi, sms for friends in hindi, sms friend hindi, sms friends hindi, sms friendship in hindi, sms hindi dosti, sms hindi for friends, sms hindi friend, sms hindi friends, sms in hindi for friend, sms in hindi for friends, sms on dosti, sms on friendship in hindi, sms shayari dosti, sms shayari in hindi dosti, sms shayari love friendship, some lines on friendship in hindi, some shayari on friendship, sorry shayari for friends, sorry shayari in hindi for best friend, status about friendship in hindi, status based on friendship, status dost, status dosti, status dosti hindi, status dosti in hindi, status for dosti in hindi, status for friends hindi, status for friends in hindi, status for selfish friends in hindi, status friendship in hindi, status friendship love, status hindi friends, status in hindi com, status in hindi dosti, status in hindi for best friend, status in hindi for friends, status in hindi friendship, status in hindi on friendship, status of friendship in hindi, status on best friends in hindi, status on dosti, status on dosti in hindi, status on friendship broken, status on friendship in hindi, suprabhat shayri, tarif sms for friend, teri dosti, tnau hostel, top shayari on friendship, true friend shayari, true friendship in hindi,
tik tok shayari

नशीहत कइयों ने दी इतनी दोस्ती ना करने की
फजीहत कइयों ने की इतनी उड़ान भरने की
हम सोचते है दोस्ती इतनी भर कीजिये
बात निकल पड़े तो पार कर जाए ,क्या जीने की क्या मरने की

Nashihat kaiyon ne di itni dosti naa karne ki
Fajihat kaiyon ne ki itni udaan bharne ki
Hm sochte hai itni dosti bhar kijiye
Bbat nikal pade toh paar kar jaaye ,kya jine ki kya marne ki

दोस्ती को बुरा समझते हैं
क्या समझ है वो क्या समझते हैं
नूह नारवी

दुश्मनी ने सुना न होवेगा
जो हमें दोस्ती ने दिखलाया
ख़्वाजा मीर दर्द

दोस्त दिल रखने को करते हैं बहाने क्या क्या
रोज़ झूटी ख़बर-ए-वस्ल सुना जाते हैं
लाला माधव राम जौहर

dosti shayari image

true friendship shayari in hindi, true friendship sms in hindi, true friendship status in hindi, two line dosti shayari, two line dosti shayari in hindi, two line friendship shayari, two line friendship shayari in hindi, two line shayari on dosti, two line shayari on friendship, very funny dosti sms in hindi, whatsapp status hindi friendship, whatsapp status in friendship in hindi, whatsapp status in hindi dosti, whatsapp status in hindi one line friendship, www dosti, www dosti shayari, www friendship shayari com, www friendship status, www friendship status com, yaadein shayari for friends, yaar na mileya, yaar shayari, yaari dosti, yaari dosti shayari, yaari dosti status in hindi, yaari shayari, yaari status, yaaro dosti, yaaro dosti lyrics, yaaro ki yaari, yaro dosti badi hi haseen hai, yaro ki yari, yaro ki yari status, yaro sab, zindagi ki sachai shayari, zindagi ki sachai shayari in hindi
best shayari for best friend

दोस्ती एहसासों का अम्बार है
अनजान लोगो से बना प्यारा संसार है
जो हर पल साथ दे वही दोस्त कहलाता है
वरना कई दाफा साया भी साथ छोड़ जाता है

Dosti ehsaanso ka ambaar hai
Anjaan logo se bana pyaara sansaar hai
Jo har pal saath de wahi dost kehlata hai
Kai dafa saaya bhi apna saath chod jata hai

हम को यारों ने याद भी न रखा
‘जौन’ यारों के यार थे हम तो
जौन एलिया

दुश्मनों से प्यार होता जाएगा
दोस्तों को आज़माते जाइए
ख़ुमार बाराबंकवी

Rahat Indori Shayari in hindi – राहत इंदौरी शायरी

ये कहाँ की दोस्ती है कि बने हैं दोस्त नासेह
कोई चारासाज़ होता कोई ग़म-गुसार होता
मिर्ज़ा ग़ालिब

dosti shayari photo

4 yaar shayari image
dosti status in hindi

साल बीत जाते है जवानी बनकर
बातें खो जाती है कहानी बनकर
दोस्त हमेशा करीब होते हैं
कभी हंसी कभी आँखों का पानी बनकर

Saal bit jaate hai jawani banker,
Baate kho jaate hain kahani banker
Dost hamesha karib hote hain
Kabhi hansi kabhi aankho ka paani bankar

दोस्ती आम है लेकिन ऐ दोस्त
दोस्त मिलता है बड़ी मुश्किल से
हफ़ीज़ होशियारपुरी

तुझे कौन जानता था मिरी दोस्ती से पहले
तिरा हुस्न कुछ नहीं था मिरी शाइरी से पहले
कैफ़ भोपाली

दुश्मनों ने जो दुश्मनी की है
दोस्तों ने भी क्या कमी की है
हबीब जालिब

friendship shayari photos

cycle wali dosti shayari
friend par shayari

ऐ अल्लाह मुझपे एक एहसान करना
दोस्त की जिंदगी में अनेक मुस्कान भरना
दर्द की परछाई भी हटा देना
गर जरूरत पड़ जाए मेरी शरीर मेरा लहूलुहान करना

Ae allah mujhpe ek ehsaan karna
Dost ki jindagi me anek mushkaan bharna
Dard ke parchai se koso dur rakhna
Gar jaroorat pad jaaye meri ,sharir mera lahooluhan karna

shayari on yaari

char yaar shayari
best dosti shayari in hindi

दुनिया चेहरे देखती है ,हम दिल देखते हैं
दुनिया सेहरे देखते हैं,हम मंजिल देखते है
लोग दुनिया में दोस्त ढूंढने निकले है
हम दोस्तों में दुनिया देखते है

Duniya chehre dekhti hai ,hamare dil dekhte hain
Duniya sehare dekhte hain,ham manjil dekhte hain
Log duniya me dost dhundhane nikale hain
Hum doston me duniya dekhate hain

love dosti shayari in hindi

tik tok shayari
friend love shayari

आए खुदा उनके जिंदगी में बहार बनकर
मेरे दोस्त की जिंदगी में महकता प्यार बनकर
मुझसे भी अच्छे दोस्त मिले उनको
किसी रोज शनिवार किसी दिन इतवार बनकर

dosti shayari text

Aaaye khuda unke jindagi me bahaar banker
Mere dost ki aankho me mehkta pyaar banker
Mujhse bhi acche dost mile unko,
Kisi roj saniwar kisi din itwaar banker

friendship shayari image
sorry shayari for friends

जिंदगी की हर ख़ाहिश पूरी हो
दुशमनो की साजिश से दुरी हो
जारी रहे हमारी दोस्ती का सिलसिला
हम रहे ना रहे पर दोस्ती हमारी जरूरी हो

Jindagi ki har khwaish poori ho
Dushmano ki saajish se duri ho
Jaari rahe hamari dosti ka silsila
Ham rahe naa rahe par dosti hamari jaroori ho

dosti wale shayari

dosti shayari
best friend shayari image

अपनी दोस्ती में तूफ़ान मचाये है
दोस्तों के दिलो में मकान बनाये है
तुम जिंदगी भर अगर दोस्त रहो हमारे
ये तो एक सिर्फ आगाज़ है कई मुकाम बनाये है

Apni dosti me kai tufaan machaye hain
Dosto ke dilo me makaan banaaye hai
Tum jindagi bhar agar dost raho hamare
Ye to ek sirf agaaz hai kai mukaam banaye hai

friendship forever shayari

tik tok shayari
school friends shayari

हर मोड़ मुकाम नहीं होते
कई रिश्तो के नाम नहीं होते
बड़ी मुश्किलों से ढूंढा है आपको
आपके जैसा दोस्त मिलना आसान नहीं होते

Har mod mukaam nahi hote,
Kai rishto ke naam nahi hote,
Badi mushkilo se dhundha hai aapko
Aapke jaisa dost Milna asaan nahi hote

best friend friendship shayari

tik tok shayari
good night friend shayari

कही अँधेरा होगा तो कही शाम होगी
हमारी हर ख़ुशी तेरे पे कुर्बान होगी
मौका गर मिले तो आजमा लेना
होठो पे हसी और हथेली पे मेरी जान होगी

Kahi andhera hoga toh kahi sham hogi
Hamari har khushi tere pe kurbaan hogi
Mauka gar mile toh aaajma lena
Hotho pe hansi aur hatheli pe meri jaan hogi

dosti poetry in hindi

boys shayari image
heart touching friendship quotes in hindi

कई दफा मुहब्बत में जुदाई होती है
कई लोगो के प्यार में बेवफाई होती है
एक बार बाहें बढाकर देखिये
बता देंगे दोस्ती में कितनी सच्चाई होती है

Kai dafa muhabbat me judai hoti hai
Kai logo ke pyaar me bewafai hoti hai
Ek bar baanh badhakar dekhiye
Bata denge dosti me kitni sacchai hoti hai

friendship dosti shayari

boys shayari image
sad friendship shayari in hindi

कई फ़सानो से गम मिल जाते है
तेरे आशियानों में हम मिल जाते हैं
दुआ है की तुम कभी उदास ना हो
धड़कनो में हमारे यार के कदम मिल जाते है

Kai fasano se gam mil jaate hain
Tere aashiyano me hum mil jaate hain
Dua hai ki tum kabhi udaas naa ho
Dhadkano me hamare yaar me kadam mil jaate hain

dosti shayari 2 lines

friendship shayari image
attitude friendship shayari

खुश्बू की तरह साँसों में हो तुम
लहू की तरह हर अंशों में हो तुम
दोस्ती होती है अनमोल रिश्ता
हजार आमों में अल्फांसो हो तुम

Khusbu ki tarah saanso me ho tum,
Lahoo ki tarah har ansho me ho tum
Dosti hoti hai anmol rishta
Hajaar aamo me alfansho ho tum

इन्हे भी पढ़ें

मिर्ज़ा ग़ालिब शायरी
हैप्पी बर्थडे शायरी
रोमांटिक शायरी
लव शायरी
Sad Shayari

[contact-form-7 id=”9002″ title=”Contact form 1″]