Sinjara Shayari | सिंजारा शायरी

Sinjara Status Shayari 2021 : The Sinjara Festival is Rajasthani Festival Dated Before One Day Of Teej [ Haryali Teej ]. Here On This Page We Updating About Sindhara Festival How To And Why ?. Read Here Sinjara Status Shayari सिंजारा शायरी Sindhara Wishes बधाई शुभकामनाएं संदेश हिंदी | इसके अलावा हम आपके लिए लायें है, Sinjara Shayari Happy Sinjara Wishes Messages SMS Images HD Photo Wallpaper Photos Greetings इससे आप इस सिंजारा त्यौहार पर एक दुसरे को बधाई दे सकते है | आप सभी को सिंजारा पर्व की हार्दिक शुभकामनायें |

सिंधारा मुख्‍य रूप से महिलाओं का त्‍यौहार है जो मुख्यतः राजस्थान राज्य और इसके आसपास के राज्यों में मनाया जाता है इस दिन सभी सुहागन स्त्रियां व कुँवारी कन्यायें भी अपना श्रंगार करती है | जिसको सिंजारे और तीज का श्रंगार कहते है | इस दिन बेटी के मायके वाले और ससुराल वाले भी अपनी बेटी व बहू को सोलह श्रंगार का सामान मिठाई और वस्त्र देते है |

इस त्यौहार के रिवाज के अनुसार जो कुँवारी कन्याये होती है उन्हें भी माता पिता नये वस्त्र और मिठाई खिलाते है  सिंधारा दूज मनाने से बहू बेटी सुहाग व सम्पनता से भरपूर रहती है इसलिए इस Teej को सिंजारा तीज Sinjara teej के नाम से भी जानते है। इसका दूसरा नाम सिंजारा दूज भी है | महिलाएं मेहंदी के विभिन्न डिज़ाइन से हाथों और पैरों को सजाती है। खूब मौज मस्ती करती है। बगीचों में पेड़ों पर बड़े बड़े झूलों पर झूला झूलती है।

Advertisements

सिंजारा / सिंधारा तीज त्यौहार के एक दिन पूर्व सावन शुक्ल द्वितीया को होता हैं इस दिन भारत देश में नव विवाहिता के लिए ससुराल पक्ष वालों के द्वारा नये वस्त्र आभूषण मिठाई आदि उसके पीहर ले जाया जाता हैं साथ में कोई भी एक बड़ा बर्तन जो उसकी शादी के समय तय किया जाता हैं वह भी ले जाते हैं | जिसके बदले में लडकी के पीहर वाले उनको भेंट के रूप वस्त्र और रुपए (जुहांरी ) देते हैं |

सिंधारा महोत्सव के दिन महिलाएं बड़े-बड़े वृक्षों में झूला आदि डाल कर सखियों के३ साथ झुला झूलती हैं और शिव-पार्वती के लोकगीतों को गाती हुई झुला झूलती हैं। इसके साथ-साथ ही इस दिन वृक्षों, हरी-भरी फसलों, नदियों तथा पशु-पक्षियों को भी पूजा जाता है । जबकि राजस्थान में इस दिन खेजड़ी/जाटी और तुलसी की पूजा की जाती है |

Sindhara Gift 2021

इस दिन महिलाएं लहरिया के डिज़ाइन वाले रंग बिरंगे वस्त्र पहनती है जिसमे पीले , हरे , लाल ,नीले , गुलाबी आदि चटक रंगों का समावेश होता है। जिसे देखकर आसानी से महिलाओं के उत्साह का अंदाजा लगाया जा सकता है।

नवविवाहित कन्या को इस Teej पर माता पिता और सास ससुर की और से कई प्रकार के तोहफे ( Gifts ) दिए जाते है। नए कपड़े , जेवर , चूड़ियां , पायल , बिंदी , मेहंदी , फल , मिठाई आदि दिए जाते है।

आया सिंजारे का त्यौहार,
सखियां हो गयी तैयार,
मेहंदी हाथो में रचा के,
कर लो सोलह श्रृंगार।
सिंजारे की शुभकामनाएं

Sinjara Shayari Hindi


महीना आया सावन का सिंधारा मनाएंगे
चूड़े और चुनड़ी से मैया को सजायेंगे

श्रद्धा के फूलों से झूला सजाया है
हौले हौले मैया को झूला झुलायेंगे

चांदी की चौकी पर मइया को बिठाकर के
हाथों और पावों में मेहँदी लगाएंगे

चाँद और तारों से चुनरी सजाई है
लाल चुनरी लाये है उढ़ाकर ही जायेंगे ।

सिंजारा शायरी 2021 हिंदी स्टेटस

देर ना करो मैया भक्तों ने पुकारा है
झूला सजा बैठे हे,आज तुमको झुलायेंगे ।

चंदन की खुशबू, बादलों की फुहार
आप सभी को मुबारक हो सिंजारे का त्यौहार

Sindhara Wishes in Hindi

तीज का सिंजारा 2021 सिंधारा

Sawan Sindhara Sindhara dooj 2020 Sindhara me kya gift de

पेड़ों पर झूले
सावन की फुहार
मुबारक हो आपको
तीज का त्यौहार

सिंधारा बधाई शुभकामनाएं संदेश हिंदी
हाथो में मेहंदी रचाकर रखूंगी, उनके हाथो में हाथ
करुँगी सोलह श्रृंगार, रहूंगी साजन के साथ

Sinjara Images HD Photo Wallpaper