Shayari ,shayari in hindi ,hindi shayari

डॉग शायरी | Dog Shayari in hindi

कुत्ता पर शायरी, स्टेटस, कोट्स, स्लोगन एवं कविता,कुत्ते की मौत शायरी, best Dog Shayari, Status, Quotes, Slogans, Poetry & Thoughts Best Dog Dosti Wafadari Shayari in Hindi – इस आर्टिकल में कुत्ते पर शायरी, डॉग दोस्ती…

Continue Readingडॉग शायरी | Dog Shayari in hindi

एलआईसी शायरी | LIC Shayari in hindi

LIC Shayari LIC Shayari Status Quotes Image in Hindi – इस पोस्ट में बेहतरीन एलआईसी शायरी स्टेटस कोट्स इमेज आदि दिए हुए है. इस पोस्ट को जरूर पढ़े और शेयर करें. LIC – Life Insurance Corporation…

Continue Readingएलआईसी शायरी | LIC Shayari in hindi

स्वास्थ बिमा पर कविता | Health Insurance shayari

Health Insurance shayari बदलती जीवन शैली बन सकती है बीमारी का बड़ा कारणदेर रात तक काम , खाने की खराब आदतों का जल्द कर लो निवारण हम करते कोई ना व्यायाम और लेते अत्यधिक तनाव,संडे में…

Continue Readingस्वास्थ बिमा पर कविता | Health Insurance shayari

रोना शायरी ( Rona Shayari in hindi )

Rona Shayari रोया करेंगे आप भी पहरों इसी तरहअटका कहीं जो आप का दिल भी मिरी तरह आता नहीं है वो तो किसी ढब से दाव मेंबनती नहीं है मिलने की उस के कोई तरह तश्बीह…

Continue Readingरोना शायरी ( Rona Shayari in hindi )

Corona Vaccine Shayari | Vaccine Shayari

कोरोना वायरस की वैक्सीन का सबको इंतजार है। हालांकि जब तक वैक्सीन तैयार हो कर सबको नहीं लग जाती, तब तक मास्क ही सबसे कारगर उपाय है। कोरोना के डर के साये में इन सब चीज़ों…

Continue ReadingCorona Vaccine Shayari | Vaccine Shayari

ख़ामोशी शायरी | Khamoshi shayari

इस पोस्ट में आपको ख़ामोशी शायरी, उसकी ख़ामोशी शायरी, आपकी खामोशी शायरी, तुम्हारी ख़ामोशी शायरी, ख़ामोशी शायरी फर्ज, दोस्त की ख़ामोशी शायरी, किसी की ख़ामोशी शायरी, ख़ामोशी भरी शायरी, Khamoshi Shayari for WhatsApp and Facebook in…

Continue Readingख़ामोशी शायरी | Khamoshi shayari

तन्हाई शायरी | Loneliness Shayari in hindi

Alone Shayari हर वक़्त का हँसना तुझे बर्बाद ना कर दे,​तन्हाई के लम्हों में कभी रो भी लिया कर। तन्हाईयाँ कुछ इस तरह से डसने लगी मुझे,मैं आज अपने पैरों की आहट से डर गया। चलते-चलते…

Continue Readingतन्हाई शायरी | Loneliness Shayari in hindi

Insaniyat Shayari in hindi | इन्सानियत शायरी

इन्सानियत की रौशनी गुम हो गई है कहाँ,साए तो हैं आदमी के मगर आदमी कहाँ? Insaniyat Shayari मेरी जबान के मौसम बदलते रहते हैं,मैं तो इंसान हूँ मेरा ऐतबार कम करना। अदब के सारे खज़ाने गुजर…

Continue ReadingInsaniyat Shayari in hindi | इन्सानियत शायरी