Advertisements

Punjabi Shayari in hindi

तेरी याद विच अथरु वहाँ लग पे
तेरी सोच विच निंद्रा गवाओं लग पे
यार तेरे जेहा लबना नहीं सानू होर कोई
इना सोचां विच जिंद नू मुकाण लग पे

बड़ा इश्क़ इश्क़ तू करदा हैं
कदी इश्क़ दा गुंजल खोल ता सही
तेनु मिटी विच रौल देवें
तू बोल दो प्यार दे बोल ता सही
प्यार घट ते दर्द हज़ार मिलदे
कदी इश्क़ दी टोकरी टोल ता सही

बरसात विच असां पानी बनके रूढ़ जाना .
पतझड़ विच असां सूखे फूल बनके झड़ जाना .
की होया ये आज असां तेनु तंग करदे आँ .
इक दिन असां तेनु दसे बिना ही टूर जाना .

धुँआ धुँआ करके जल रही है
अर्थी मेरे प्यार दी
देख हास्दा आज जमाना सारा
तू लूट नज़ारे मेरी बर्बादी दे
सानु भूल जावेंगा एह जग सारा

पंजाबी शायरी

ਤੜਪ ਜੇਹੀ ਕਾਲਜੇ ਚ ਉੱਠਦੀ ਏ ਮੇਰੇ
ਕੁਝ ਸੀਨੇ ਚੋਂ ਜਿਵੇਂ ਆਰ ਪਾਰ ਹੋ ਗਿਆ ਏ..!!
ਨੈਣ ਜਾਗਦੇ ਹੀ ਰਹਿੰਦੇ ਨੇ ਰਾਤਾਂ ਨੂੰ ਹੁਣ
ਕਾਦਾ ਚੰਨ ਜਿਹੇ ਚਿਹਰੇ ਦਾ ਦੀਦਾਰ ਹੋ ਗਿਆ ਏ..!!

दिल नु लग जान रोग ता की करिये
किसे दी याद बीच अखियाँ रों ता की करिये
सानु मिलान दी उडीक रेह्न्दी है हरदम
फेर यह यार ही न बुलाबे ता की करिये

इबादत रब दी होबे ता चेहरा यार दा होबे
सजदे खुदा दे ते रस्म प्यार दी होबे
आशिक़ाँ दे मज़हब दी की दस्सीये,
ज़िकर रब्ब दा ते गल दिलदार दी होबे

ज़हर वेख के पीता ता की पीता
इश्क़ सोच के कीता ते की कीता
दिल दे के यह दिल लें दी आस रखी
इहो दिया प्यार कीता ता की कीता

इश्क़ दा जिस नू ख्वाब आ जाँदा ऐ ,
वक़्त समझो खराब आ जाँदा ऐ ,
मेहबूब आवे या न आवे
पर तारे गिन्नं दा हिसाब आ जाँदा ऐ

मौत ता बुरी चीज़ है यारो
पर मौत तो बुरी जुदाई
सब तो बुरी उडीक साजन दी
जो रख दी खून सुखाई

आधी रात नु दिल दी देहलीज उते
इक सूपना आन खलो जाँदा
आ बेहन्दे हो सिरहाने तुसी
सोना मुस्किल हो जाँदा है
प्यार तेरे दा दर्द वे सजना
मेरी नाड़ी नाड़ी टओ जाँदा
रब दी सो में तेनु प्यार नी कीता
ऐ ता अपने आप ही हो जाँदा

इक दिन मेरे अथरू मेरे तो पूछ बैठे ,
सानू रोज रोज क्यों रुलांदे हो ,
मैं बोलिया ,…
मैं याद ता ओहनू करदा हाँ ,
तुसी अप्पे क्यों चले आंदे हो .

ਮੇਰੇ ਦਿਲ ਦਾ ਸਕੂਨ ਏ ਤੂੰ,
ਤੈਥੋ ਦੂਰ ਹੋ ਕੇ ਮੈਂ ਗੁੰਮ ਹੋ ਜਾਣਾ!!
ਤੇਰੇ ਰੰਗ ਵਿਚ ਹੁਣ ਦਿਲ ਰੰਗੀ ਬੈਠੀ ਆਂ,
ਜੇ ਤੂੰ ਖਫਾ ਹੋਇਆ ਤਾਂ ਮੈਂ ਬਿਲਕੁਲ ਬੇਰੰਗ ਹੋ ਜਾਣਾ!!

समझ न सके उन्हा दिया गला नु
आसी प्यार दे नशे बीच चूर सी
हूँणं समझे जिनु प्यार करदे सी
ओ असल च दिल तोडन लाई मश्हूर सी

समुन्द्र दे किनारे घर नहीं हुँदै
गमा बीच डूब के गुजरे नहीं हुंदे
सुख दुःख दा साथ दिन रात दा
हर पल मौजां दे हुलारे नहीं हुंदे

Punjabi Shayari

सोहना दिल ते हुस्न जवान होवें
पक्की सड़क ते उच्चा माकन होवें
आ घुट के जफी पा ले , जड़ा पहले छडे ओ बेईमान होवें

मैं हूँण तेरे शहर तो दूर जा रहां हाँ
हो के तेरे चुप तो बस मजबूर जा रहां हाँ
ले के अपनी जान नु कुछ इस तरह
तेरी यादा दा ले के नूर जा रहा हूँ

रब ने मेरे हाथ ऐसी लकीर लिख ती
उन्हु मिल न सका ऐसी ढाढी मेरी तक़दीर लिख ती
जिन्हु प्यार करदे सी जहाँ तो भी ज्यादा
रब ने होर किसी दे ना उदी तक़दीर लिख ती

चिटा कुकड़ बनेरे ते
कासनी दुपट्टे वालिये दिल आशिक़ तेरे ते

ਕਿਸੇ ਦਾ ਇਸ਼ਕ ਕਿਸੇ ਦਾ ਖਿਆਲ ਸੀ ਮੈਂ
ਲੰਘ ਗਏ ਸਾਲਾਂ ਵਿੱਚ ਬਹੁਤ ਕਮਾਲ ਸੀ ਮੈਂ.

ओ बिना बजह रूठ गए
सारे अरमान दिल दे टूट गए
नफरत दा ढोंग उन्हें ऐसा दिखाया
ओह पत्थर बन के जीण लगे
ते आसी शीशा बन के टूट गए

हुस्न तेरे दा तोड़ नई अडिये , कीमे रखागे दिल नू संभाल के
इक जवानी , इक कहानी , कदी रहें है दुनियां तो लोकोके

Kayal haan tere husan de
Unjh surtan van- suwanniyan ne..!!
Sanu jakdeya ehne ishq ch e
Sade pairi janzeeran banniyan ne..!!

मौत ता बुरी चीज़ है यारो
पर मौत तो बुरी जुदाई
सब तो बुरी उडीक साजन दी
जो रख दी खून सुखाई

Khiyalan ne fadeya e pallrha tera😇
Mukh tera ki 🙈akhiyan nu fabbeya e😍..!!
Bullan 👄ne haase injh tikaye ne❤️
Khzana😍 jio koi hath laggeya e😘..!!

इबादत रब दी होबे ता चेहरा यार दा होबे
सजदे खुदा दे ते रस्म प्यार दी होबे
आशिक़ाँ दे मज़हब दी की दस्सीये, ज़िकर रब्ब दा ते गल दिलदार दी होबे

Baith kariye tera intezaar❤️
Kad mukkne tere kam kaar🤔..!!
Kad lai bahaan vich sohna yaar🙈
Kare gallan pyar diyan do char😍..!!

मैं हूँण तेरे शहर तो दूर जा रहां हाँ
हो के तेरे चुप तो बस मजबूर जा रहां हाँ
ले के अपनी जान नु कुछ इस तरह
तेरी यादा दा ले के नूर जा रहा हूँ

समुन्द्र दे किनारे घर नहीं हुँदै
गमा बीच डूब के गुजरे नहीं हुंदे
सुख दुःख दा साथ दिन रात दा
हर पल मौजां दे हुलारे नहीं हुंदे

दिल नु लग जान रोग ता की करिये
किसे दी याद बीच अखियाँ रों ता की करिये
सानु मिलान दी उडीक रेह्न्दी है हरदम
फेर यह यार ही न बुलाबे ता की करिये

समझ न सके उन्हा दिया गला नु
आसी प्यार दे नशे बीच चूर सी
हूँणं समझे जिनु प्यार करदे सी
ओ असल च दिल तोडन लाई मश्हूर सी

Wo Sanso Se Bandhi Zanjeer Thi Jo Tod Di Humne…
Jaldi Soya Karenge, Ab Mohabbat Chhordi Humne…

Hanju Saadi Taqdeer Asin Hanjuan Vich Rul JaanaAsin Umraan Tak Tuhanu Yaad RakhnaPar Tusin Hauli-Hauli Sannu Bhul Jaana

Eh kaisa pyar e
Jithe ik nu chad duje de larh laggeya jaye..!!
Pyar taan oh hai jithe door hon de bawjood vi
Jehan ch us ik ton siwa hor koi na aaye..!!