Essay on PM Kisan Karj Mafi Yojana in hindi

PM Kisan Karj Mafi Yojanaपिछले साल पीएम मोदी ने प्रधानमंत्री किसान कर्ज माफी योजना शुरू की थी। जिसका उद्देश्य देश के किसानों को प्रोत्साहन देना और उन्हें आत्मनिर्भर बनाना था।

अब फिर से सरकार पीएम किसान कर्ज माफी योजना (PM Kisan Karj Mafi Yojana) 2020 को जल्द शुरू करने जा रहे हैं। केंद्र सरकार देश के 26 लाख किसानों के सर से ऋण का बोझ उतारने का विचार कर रहे हैं।

देश में अभी भी बहुत से किसान ऐसे है, जो अपना ऋण चुकाने को समर्थ नहीं है। जिस कारण देश में किसानों की आत्महत्या की दर तेजी से बढ़ रही है। इसको रोकने के लिए भारत सरकार कई तरह के प्रयत्न कर रही है। हाल ही में मध्य प्रदेश समेत कई राज्यों ने किसानों के कर्ज माफ़ के लिए बहुत सी योजनायें बनायीं है।

प्रधानमंत्री किसान कर्ज माफी योजना की सम्पूर्ण जानकारी

PM Kisan Karj Mafi Yojana Complete Details – इस योजना के तहत केंद्र सरकार किसानों की भलाई के लिए खरीफ़ की फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) बढ़ाएंगे। यह योजना कृषि और किसानों कल्याण मंत्रालय के अंतर्गत आएगी, जिसमे लगभग 4 लाख करोड़ रुपये का अतिरिक्ति खर्च आएगा। पीएम किसान कर्ज माफी योजना की मुख्य विशेषताएं निम्न प्रकार से है:

लोकसभा के शीतकालीन सत्र के पहले दिन मोदी जी ने मीडिया से बातचीत की। इस दौरान उन्होंने कहा की केंद्र सरकार आने वाले समय में किसान कर्ज माफी योजना का ऐलान कर सकती है। भारत सरकार अनुसार पुरे देश के लगभग 26 लाख से ज्यादा किसानों का बैंक लोन माफ किया जा सकता है।

इस ऋण माफी योजना का कुल खर्च 4 लाख करोड़ के आस-पास होगा, जिसे केंद्र सरकार उठाएगी। इसके अलावा, इस योजना के तहत किसानों द्वारा लिए गए फसल ऋण को पूरी तरह से माफ किया जायेगा। चाहे वो वाणिज्यिक, सहकारी या राष्ट्रीयकृत बैंक से लिया गया ऋण हो।

प्रधानमंत्री किसान कर्ज माफी योजना को फिर से लांच करने का फैसला इसलिए लिया गया। क्योकि देश के तीन प्रमुख प्रदेशों में भाजापा के हार का कारण किसान वोट बैंक ही था। इसी को भुनाने के लिए कांग्रेस ने तीनों प्रदेश के अपने चुनावी घोषणा पत्र में किसान कर्ज माफी योजना की बात रखी। जिस कारण कांग्रेस को इन सभी राज्यों में सरकार बन गयी।

PM Farmer Loan Waiver Scheme Eligibility Criteria & Required Documents

इस योजना के लिए आवेदन की पात्रता के बारे में सरकार द्वारा अभी कोई घोषणा नहीं की गई है। यह योजना केंद्र सरकार द्वारा लागू की जाएगी। देश के सभी हिस्सों के किसान इस योजना के लिए पात्र होंगें, और इसका लाभ उठा सकेंगें। केवल वे ही किसान इस योजना का लाभ उठा सकते है जो पूर्ण रूप से कृषि पर निर्भर रहते है। इसके साथ ही उनके पास किसान रजिस्ट्रेशन कार्ड (Farmer Registration Card) होना भी अनिवार्य है।

पीएम कर्ज माफी योजना (PM Kisan Karj Mafi Yojna) ग्रामीण क्षेत्र के किसानों को फायदा पहुंचाने के लिए लागु किया जा रहा है। । किसान ऋण मोचन योजना आने से देश के सारे बैंकिंग संगठन पर असर पड़ेगा। इसलिए सरकार को बैंकिंग सेक्टर में सुधार के लिए कार्य भी करना पड़ेगा।

प्रधानमंत्री फसल ऋण योजना के बारे में आरबीआई एसबीआई का मत

रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया (RBI) पीएम फसल ऋण मोचन योजना (Pradhan Mantri Fasal Rin Mochan Yojana) के विरोध में खड़ी है। क्यूंकि उनका कहना है कि इससे ऋणदाता और ऋण लेने वालों के बीच असंतुलन पैदा हो जायेगा। जिससे आने वाले समय में समस्या पैदा हो सकती है ।

स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया (SBI) का कहना है कि प्रधानमंत्री किसान कर्ज माफी योजना (PM Kisan Karj Mafi Yojana) सही नहीं है। क्यूंकि इससे गैर निष्पादित संपत्तियां (NPA) का अनुपात बढ़ेगा। इसके फलस्वरूप किसान अपने कर्ज का भुगतान समय पर नहीं करेगा और अगले चुनाव का इंतजार करेगा। जिससे उनका कर्ज माफ हो जायेगा।

Leave a Comment

Your email address will not be published.