motivational story in hindi for success | सफलता कि प्रेरणादायक कहानिया

हौंसला बढ़ाने वाली ये प्रेरणादायक सफलता की कहानिया | Motivational Stories in Hindi for success आपको आपको नाउम्मीदी से विश्वास की ओर ले जायेंगे।  ये उन लोगो की कहानी है जो अपने जीवन के सुरुवाती दिनों में परेशानियों से झूझ रहे थे। लेकिन उन्होंने उन सारी परेशानियों के बावजूद लड़ना नहीं छोड़ा।

अंत में उन्होंने अपना एक अलग नाम बनाया। आज पूरी दुनिया उनको जानती है। ये लोग वो आम लोग थे जो अपने मेहनत के चलते ख़ास हो गए। इनमे कोई दैवीय शक्ति नहीं थी लेकिन एक भरोसा  था की वो अपने जीवन को बदल सकते हैं.

अक्सर हमारे सामने मुसीबते आती है तो उस समय हमे कुछ समझ नहीं आता की क्या सही है और क्या गलत।  उस कठिन समय मे कुछ लोग टूट जाते है तो कुछ संभाल जाते .


कोई भी काम असंभव नहीं होता, बल्कि थोडा कठिन होता है| जब कोई काम इतना कठिन होता है जिसे हम आसानी से नहीं कर सकते तो बस हम उसे असंभव कहने लगते हैं. है।असंभव कार्य को करने के लिए जितनी कठोर मेहनत की आवश्यकता होती है, उतनी की  नहीं गयी होती है.

आज आपको इन दो लोगो की कहानी पढ़ के लगेगा की इनकी जैसे सफलता पाना मुश्किल है या असंभव है। लेकिन अगर आप अपने इस छोटे से जीवन में खुद पे भरोसा नहीं करेंगे तो कोई भी आप से मोटीवेट होगा ना ही आप किसी को कुछ प्रेरणा दे पाने की स्थिति में होंगे.

पहली कहानी उस शख्स की है जो मिडिल क्लास परिवार से था और बिज़नेस में अपना नाम बनाना चाहता था। कई बार फ़ैल हुआ लेकिन हार नहीं मानी और आज के दिन में वह संदीप माहेश्वरी के नाम से जाना जाता है।  चलिए पढ़ते है उसकी कहानी

Real Life inspirational stories in hindi

Sandeep Maheshwari | संदीप माहेश्वरी

एक सफल उद्यमी होने के अलावा, वह एक मार्गदर्शक, एक संरक्षक, एक रोल मॉडल और दुनिया भर के लाखों लोगों के लिए एक युवा आएकन  YOUTH ICON है।

Inspirational Success Story in Hindi
संदीप माहेश्वरी

किसी भी अन्य मध्यम वर्ग के आदमी की तरह, संदीप भी अस्पष्ट सपनों का एक समूह था और जीवन में अपने लक्ष्यों की एक धुंधली दृष्टि थी। मध्यम वर्गीय परिवार का हिस्सा होने के कारण, उन्होंने अपने जीवन में कई बाधाओं का सामना किया है।

 जब संदीप 10 वीं कक्षा में थे उनका परिवार एल्युमिनियम व्यवसाय में था, जो ढह गया  इसलिए, अपने परिवार की मदद करने के लिए वह अपने पिता को अपने फोन बूथ पर मदद करता थे । इसलिए उन्होंने एक शानदार छात्र होने के बजाय बी कॉम के तीसरे वर्ष में दिल्ली के किरोड़ीमल कॉलेज से पढ़ाई छोड़ने का विकल्प चुना।

शानदार मॉडलिंग की दुनिया से आकर्षित होकर, उन्होंने 19 साल की उम्र में एक मॉडल के रूप में अपने करियर की शुरुआत की। फ़ोटोग्राफ़ी में 2 सप्ताह का कोर्स और मॉडलिंग की दुनिया को बदलने की इच्छा के साथ आगे बढ़ते हुए, उन्होंने मैश ऑडियो विजुअल्स प्राइवेट के नाम से अपनी कंपनी स्थापित की।  । उसने अनगिनत संघर्षरत मॉडलों की मदद करने का फैसला किया और पोर्टफोलियो बनाना शुरू कर दिया था ।

बाद में उनका नाम लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में लिखा गया वर्ष 2003 था। उन्होंने केवल 10 घंटे और 45 मिनट में 122 मॉडलों के 10,000 से अधिक शॉट्स लेने की बाजीगरी कर एक विश्व रिकॉर्ड बनाया था ।

 अगले 4/5  साल उसके लिए पूरी तरह से असफल रहे। वह 2,3 व्यवसायों में असफल रहा। 26 साल की उम्र में  बाद अपनी IMAGES BAAZAR  वेबसाइट के साथ आए और पेशेवर फोटोग्राफी करना शुरू कर .उन्हें पता था कि उनके करियर में मॉडल को किस तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है और उनके लिए एक स्वस्थ वातावरण बनाने की बहुत कोशिश की जाती है।

 बड़े पैमाने पर सेटअप नहीं होने के कारण, उन्होंने मल्टी-टास्किंग का काम संभाला। काउंसलर, टेली-कॉलर और एक फोटोग्राफर होने के नाते सभी ने अपने रास्ते को आगे बढ़ाया। आज ImagesBazaar एक मिलियन से अधिक Images छवियों और 45 देशों में 7000 से अधिक ग्राहकों के साथ भारतीय छवियों का दुनिया का सबसे बड़ा संग्रह है।

Imagesbazaar  साल 2010 में 10.2 करोड़ रुपये की कंपनी ($ 1.6 मिलियन) थी।

कंपनी द्वारा उपलब्ध कराए गए आँकड़ों की कमी के कारण, हम इसके वर्तमान मूल्य का ठीक-ठीक अनुमान नहीं लगा सकते हैं, लेकिन यह 100 करोड़ रुपये से 120 करोड़ रुपये के बीच कहीं होना चाहिए।

मौलिक जीवन बदलते सेमिनार – जो नि: शुल्क हैं!

उनके सेमिनार फ्री ऑफ कॉस्ट हैं, यानी वह कभी भी अपने दर्शकों से एक भी रुपया नहीं कमाते हैं। इसके बजाय, वह फिल्मोग्राफी, रेंट, वॉटर और मैनेजमेंट सहित सभी खर्चों से संबंधित है।

संदीप माहेश्वरी का मिशन – लोगों को व्यापक रूप से मानसिक और भावनात्मक रूप से मजबूत करना

श्री संदीप माहेश्वरी 2020 में अब भी पूरे भारत में प्रेरक जीवन परिवर्तन संगोष्ठी ’का आयोजन कर रहे हैं ताकि युवाओं के मन को और प्रेरित किया जा सके। वह वास्तव में भविष्य के सकारात्मक पक्ष की तुलना में वास्तविकता पर ध्यान केंद्रित करता है।

उनका कहना है कि समाधान ढूंढने वाली मानसिकता हम सभी को विशेष रूप से अभ्यास करने की आवश्यकता है। जब हम असफल होते हैं, तो हम अधिक चुनौती और महसूस करते हैं, लेकिन हम में से अधिकांश जानते हैं कि असफलता सफलता की ओर ले जाती है। अपने गंतव्य पर जाने के लिए यह आवश्यक नहीं है कि आपको कागज़ की शीट पर पूरे विस्तृत पथ को जानना आवश्यक है

संदीप का मानना है कि चाहे आप एक रुपये या एक लाख से शुरू करें, महत्वपूर्ण बात यह है कि शुरुआत करें और वह भी अपने स्वयं के पैसे से।

यह परिवर्तन का प्रयास था जिसने उन्हें 29 साल की छोटी उम्र में भारत के सबसे प्रसिद्ध उद्यमियों में से एक बना दिया।

Sandeep Maheshwari books in hindi

उन्होंने  किताबें लिखी है जैसे To Never Fear of Failures’ and “Be Truthful to self and others”.अपनी उम्र और कद के किसी भी अन्य व्यक्ति की तुलना में पूरी तरह से अलग आभा के साथ ऊपर उठ गया  है

आजकल, संदीप माहेश्वरी उन लोगों के लिए बहुत  motivational  success stories प्रेरक भाषण देते हैं, जो अपने जीवन में असफलताओं के कारण परेशान हो जाते हैं।

संदीप माहेश्वरी निजी जानकारी

•        जन्म 28 सितंबर 1980

•        नागरिकता नई दिल्ली

sandeep maheshwari wife image
संदीप माहेश्वरी पत्नी नेहा माहेश्वरी

संदीप माहेश्वरी की सफलता के पीछे नेहा माहेश्वरी है।संदीप माहेश्वरी की पत्नी हमेशा अपने बच्चों के साथ देखी जाती है। उसके दो बच्चे हैं; एक बेटा और एक बेटी।

sandeep maheshwari latest video

Zyada mat sochna

Sabse Bada Motivation

inspirational story in hindi language

सपना चौधरी  | sapna choudhary ke baare mein

हरियाणवी गाना सुनते ही हमारे दिमाग में मशहूर सिंगर और डांसर सपना चौधरी की छवि उभरती है जिसका आज हर युवा उनके डांस और सिंगिंग का दीवाना है . सपना चौधरी हरियाणा की लोकप्रिय नृत्यांगना और रागिनी गायिका हैं।

inspire biography in hindi
सपना चौधरी

सपना चौधरी ने बहुत ही कम समय में सफलता पाई है लेकिन इसके पीछे एक संघर्ष भी छिपा हुआ है . सपना चौधरी का जन्म 25 सितंबर 1990 को हरियाणा के रोहतक जिले में हुआ था .उसने शुरू में स्थानीय ऑर्केस्ट्रा समूह में गाना गाकर अपने करियर की शुरुआत की। तब उनका मुख्य उद्देश्य सिर्फ पैसा कमाना था क्योंकि 18 साल की उम्र में ही सपना के पिता की एक हादसे में मृत्यु 2008 में हो गई थी और परिवार की पूरी जिम्मेदारी सपना के कंधों पर आ गई थी.

उन्होंने एक लोकल ऑर्केस्ट्रा ग्रुप में गाना गाना शुरू कर दिया |


वह नाइट सिंगिंग शो में प्रदर्शन करती थी और दिन में वह स्कूल जाती थी। स्कूल और शो दोनों को एक साथ करना काफी मुश्किल काम था । शिक्षक कक्षाओं में उसके लिए नरम कोना रखते थे क्योंकि उन्हें पहले से ही पता था कि वह रात के कार्यक्रमों में प्रदर्शन कर रही है। ज्यादातर समय वह क्लास में आखिरी बेंच पर सोती थी।

सपना शुरुआत में हरियाणा में और आस पास के राज्यों में रागनी प्रोग्रामो में रागनी पार्टियों के साथ हिस्सा लेती थी .|

 पिता की मृत्यु के बाद अपने परिवार की जिम्मेदारियों को संभाले लिए उन्होंने अपने शौक “नृत्य” और “गायन” को अपना व्यवसाय बना लिया .

लोगों को सपना के गाने पसंद आने लगे और लोग उनकी आवाज पहचानने लगे .  उसके बाद सपना ने स्टेज डांस करना शुरू किया .सपना ने एक हरियाणवी गाने गाने ‘सॉलिड बॉडी रै’ पर मोर म्यूजिक कम्पनी से रिलीज हुए गाने पर डांस किया वो वीडियो हिट रहा . जिसके बाद सपना को हरियाणा के साथ अन्य प्रदेशो में भी पहचान मिली। यह पहला मौका था जब सपना ने कभी स्टेज शो किया और सोनोटेक एंटरटेनमेंट चैनल के साथ वीडियो रिकॉर्ड किया।

great person life story in hindi

इसके बाद सपना ने कई वीडियोस और बताइए जिसमें उन्होंने खुद ही गाना गाया और परफॉर्म किया| और कई गाने उनके सुपरहिट भी रहे.इसके बाद, सपना ने कई और हिट गाने दिए, जिनमें: तेरी आंख का यो काजल, सपना चेतक गीत शामिल था।

सपना जर्नी ऑफ भांगओवर में आइटम नंबर से बॉलीवुड में अपना करियर चालू  किया। इसके बाद सपना वीरे की वेडिंग फिल्म के सॉन्ग ‘हट जा ताऊ’ में नजर आई थीं । वहीं अभय देयोल स्टारर फिल्म नानू की जानू में सपना ने अहम किरदार निभाया और ‘तेरे ठुमके सपना चौधरी’ नामक एक आइटम नंबर भी किया है।

सपना के जीवन में एक बार फिर दुखद समय आया जब उनका एक वीडियो लोगों की भावनाओं को आहत किया. तब लोगों ने सपना की काफी बुराई की| सपना ने लोगों से अपने उस गाने के लिए माफी  भी मांगी. 3  FIR  सपना के खिलाफ दर्ज हो गए थे. सपना  इससे काफी परेशान हुई थी और उन्होंने सुसाइड करने की भी कोशिश की. पर बाद में उन्हें बचा लिया गया |

सपना को कलर्स के शो बिग बॉस में भी उन्हें बुलाया गया वहां पर सपना ने काफी अच्छा परफॉर्म किया लेकिन 2017 में वह बिग बॉस सीजन 11 जीत नहीं पाई |  लेकिन Bigg Boss करने के बाद उन्हें बहुत फैन फोल्लोविंग मिली थी |   उनकी पॉपुलैरिटी को देखते हुए उन्हें बॉलीवुड से भी ऑफर आने लगे .

यह वही सपना चौधरी जिसने सिर्फ 18 साल की उम्र में अपने पिता को खोया और अपने संघर्ष  के दम पर अपने परिवार को संभाला और सिंगिंग और डांसिंग में एक नई पहचान बनाई | इतनी ज्यादा प्रसिद्धि  हासिल की. कोई भी काम छोटा नहीं होता बस उस काम मन लगा के करने से सफलता मिलने की उम्मीद ज्यादा रहती है

Sapna Choudhary Songs

Teri Aakhya Ka Yo Kajal | Sapna Stage Dance |

Leave a Reply