Moral Story In Hindi For Class 3 | गोरिल्ला की कहानी

Moral Story In Hindi

एक गोरिल्ला जंगल में घूम रहा था और उधर ही अचानक से एक यात्री दिखाई दिया। उसने देखा की वह यात्री अपनी अंगुलियों को गोल करके अंदर फूक मार रहा है।

जब गोरिल्ला ने उससे पूछा तो उसने बोला की मुँह से फुक मार के वह हाथ गरम कर रहा है क्यूंकि उससे ठंडी लग रही है।

यह सुन के गोरिल्ला उसको अपनी गुफा में ले गया और वहां पर यात्री को पिने के लिए सूप दिया।

Advertisements

सुप पिने के दौरान यात्री फिर अपने मुँह से फिर फूक मारने लगा ,इस बार फिर गोरिल्ला ने पूछा की सुप से ठण्ड लग रही है क्या ?

यात्री ने कहा “नहीं ,मै फूक मार कर इस सूप को ठंडा कर रहा हु। ” इतना सुनते ही गोरिल्ला भड़क गया और उसने यात्री को तुरंत वह से जाने के लिए कहा।

कहानी से सीख (Moral Story In Hindi For Class 3) :

कोई भी उन लोगों पर विश्वास नहीं करता है जिनके पास दोहरे शब्द हैं।