कल्लू एक चतुर चोर

कल्लू एक चतुर चोर था और वह अक्सर अपने चोरी का धन गरीबो में बाट देता था। अमिर उसके चतुराई से डरते थे और उसके साथी चोर उसकी चतुराई से जलते थे। दूसरे चोरो ने सोचा की कल्लू को किसी भी तरह से फसा दिया जाए। इसलिए उन्होंने कल्लू को राजा के पायजामा चोरी करने का चैलेंज दिया। कल्लू ने इसको ख़ुशी ख़ुशी कबूल कर लिया।

Thief


उसने एक प्लान बनाया जिससे की राजा का पायजामा बड़े आराम से मिल जाए। वह राजा के कमरे में पहुंचने में कामयाब हुआ और उसने देखा की राजा सो रहे है। उसने चीटियों से भरे बोतल को खोल के राजा के पलंग पे फेक दिया। राजा को चीटियों ने काट दिया और वह मदद के लिए संतरियों को बुलाया। संतरियों ने चीटिया ढूंढने में लग गए और इसी बिच में कल्लू राजा का पायजामा लेके चम्पत हो गया। दूसरे चोर कल्लू की समझदारी सुन के फिर से हैरान हो गए।
उन्होंने ने कल्लू को अपना सरदार मानना कबूल कर लिया

कहानी से सीख
चतुर बने

%d bloggers like this: