Miss You Shayari in hindi | i miss you shayri

miss u shayari in hindi for boyfriend

miss u friend shayari,
missing friends quotes in hindi,
miss you dosti shayari,
,
miss you images in hindi

miss you sms in hindi

रोज तेरा इंतजार करता हु रोज दिल बेक़रार करता हु
काश तुम समझ लेते कितना तुम्हे याद करता हु

तेरे चेहरे की उदासी ने भर दिए मेरे आंखों में आंसू,
तेरी यादें गुनाहगार हैं जो तू अभी जानता नहीं!

miss u whatsapp status in hindi 2021

प्रेमी जोड़े अलग अलग प्रकार के हो सकते हैं, जैसे की Girlfriend-Boy-friend, Husband-Wife और Girls-Boys. हमनें Sad Shayari और Love Shayari के साथ साथ और अन्य शायरी आप लिए प्रस्तुत करते रहे हैं जिसको आपने बहुत सराहा है । Yaad Status भी का बहुत चलन है। आप याद शायरी ,हिंदी में याद शायरी ,yaad shayari,yaad shayari in hindi को whatsapp Status के रूप में भी अपनी Profile Status पर लगा सकते हैं।

Advertisements

अजीब खेल है मेरी ज़िन्दगी में
जहाँ ” याद ” आ जाए ,
वहां तुम याद आ जाते हो।

किसी नजर को तेरा इंतज़ार आज भी है कहाँ हो तुम के ये दिल बेकरार आज भी है

गुजर रही है ये जिंदगी नाज़ुक दौर से
मिलती नहीं तसल्ली तेरे बगैर किसी और से

गुजर रही है ये जिंदगी नाज़ुक दौर से

मिलती नहीं तसल्ली तेरे बगैर किसी और से

पता नहीं कैसे गुजरता है हर पल तुम्हारे बिना,
दिल बात करने की हसरत रखता है आँखे देखने की तमन्ना

याद उन्ही की आती है,
जिनसे एहसासो का लेनदेन है
हर किसी से मोहब्बत का कारोबार हो
ऐसा तो मेरे साथ मुमकिन नहीं….!!

अखबार तो रोज़ आता है घर में, बस उसकी ख़बर नहीं आती।

teri bahut yaad aa rahi hai shayari

बयान नहीं कर पाउँगा कि तुम याद बहुत आते हो…
एहसास तुम समझते नहीं और शायरी हमें आती नहीं

याद को भी आधार कार्ड जैसा होना चाहिए
एक बार आ जाए फिर दुबारा ना बनाना पड़े

कुछ दिन खामोश होकर देखो , लोग सच में भूल जाते है ।

बारिश के ‪बाद पत्तो पर ‪टंगी ‪आख़री ‪‎बूंद से पूछना, क्या होता है ‪‎अकेलापन

अगर रो कर यादें भुला दी जाती,तो जमाना हंसकर गम ना छुपाता

उसने पूछा की ख्वाब किस-किस के देखते हो,
बेखबर है नहीं जानती की यादें उसकी सोने कहाँ देती है ।

बारिश के ‪बाद पत्तो पर ‪टंगी ‪आख़री ‪‎बूंद से पूछना, क्या होता है ‪‎अकेलापन

उसने पूछा की ख्वाब किस-किस के देखते हो,
बेखबर है नहीं जानती की यादें उसकी सोने कहाँ देती है ।

कभी तो हिसाब कर मेरे खुदा हमारा भी,
इतनी मोहब्बत भला कौन देता है उधार में ।

Leave a Comment

Your email address will not be published.