Kamyabi Shayari in hindi | कामयाबी शायरी

Kamyabi Shayari in hindi कामयाबी शायरी इन हिंदी : हर इंसान जीवन में कामयाबी चाहता है जिसकी वजह से वह अपने जीवन में बहुत संघर्ष करता है। कई बार बहुत मेहनत करने के बाद सफलता हाथ मिलती है। हमारे देश के कवी और शायरों ने कामयाबी के ऊपर शायरी लिखी है जिन्हे पढ़ कर आप कामयाबी के बारे में जान सकते है और अपने दोस्तों के साथ उसे शेयर कर सकते है |

Kamyabi Shayari in hindi

आप कामयाबी की शायरी, kamyabi shayari in urdu, kamyabi shayari in english, kamyabi shayari images, कामयाबी शायरी हिंदी, शायरी कामयाबी की, कामयाबी कि शायरी, सक्सेस शायरी in urdu, सक्सेस शायरी इन हिंदी, best success shayari in hindi, success ki shayari in gujarati, success shayari sms,कामयाबी शायरी इमेज, kamyabi shayari wallpaper, success शायरी in marathi, success shayaris in hindi ,inspiration msg in hindi के बारे में इस पोस्ट से जान सकते है

परिंदो को मिलती है मंज़िल एक दिन
ये फैले हुए पर उनके पर बोलते है
अक्सर वही लोग खामोश रहते है
जो खुद नहीं उनके हुनर बोलते है

संघर्ष में इंसान अकेला है,
सफलता में दुनिया साथ है,
जिस पर ये जग हँसा है,
इतिहास उसी ने रचा है

sangarsh me isaan akela hai
safalta me duniya saath hai
jis par ye jag hasa hai
itihaas ussi ne racha hai

आस्मां में अकेला चाँद जगमगाता है
मुश्किलों में केवल इंसान डगमगाता है
काटों से घबराना मत मेरे दोस्त
काटों के बिच ही गुलाब मुस्कुराता है

Aasmaan me akela chaand jagamata hai,
mushkilo me kewal insaan dagmagata hai,
kaato se ghabrana mat mere dost
kaato ke bich hi gulaab muskuraata hai

जोशीली शायरी,
कामयाबी की शायरी,
बधाई शायरी
kamyabi shayari,
motivational shayari in hindi pdf,
shayari on success in hindi,
hindi shayari on success,
success shayari in hindi,
hindi motivational shayari for success,
kamyabi ki shayari,

मेरे लक्ष्य है, मंज़र भी है,
चुभते मुश्किलों के खंज़र भी है !!
प्यास भी है, आस भी है,
खाबो के उलझे एहसास भी है !!

mere lakshya hai ,manjar bhi hai
chubhate mushkilo ke khanjar bhi hai
pyaas bhi hai,aas bhi hai
khaabo ke uljhe ehsaas bhi hai

खैरात में कहाँ मिलती है कामयाबी

वरना हर शख्स कामयाब कहलाता

कदर ना होती लोगो को हुनर की

वरना हर शख्स लाजवाब होता

चल निकले हैं सफ़र पर जरूर अंजाम होगा
हौसला रखो खुद से जरूर एक जाम होगा
दिल में ठान लो कामयाबी को अपना बनाने की
उपरवाले का कोई न कोई इंतजाम तो होगा।

chal nikale hai safar par jaroor anjaam hoga
hausal rakho khud se jaroor ek jaam hoga
dil me thaan lo kaamyaabi ko apnaa banaane ki
uparwaale ka koi na koi intejaam to hoga

बदल लो खुद को वक्त के साथ
या फिर अपना वक़्त बदलना सीखो
मजबूरियों को कम कोसो
हर हाल में चलना सीखो

चलो तो ऐसे चलो
कि फ़िक्र हो मुश्किलों को..
उठो तो ऐसे उठो
कि सपने भी खुद पे नाज करे

कामयाबी शायरी

chalo to aise chalo
ki fikr ho mushkilo ko
utho to aise utho
ki sapne bhi khud pe naaj kare

यूँ ज़मीन पर बैठकर आसमान क्या देखना
पंखो को खोल दो जरा फिर अपनी उड़ान देखना

yu jamin par baith kar asmaan kya dekhna
pankho ko khol do jara fir apni udaan dekhna

motivational shayari in hindi pdf download,
जोशीले शायरी
सफलता पर बधाई संदेश,
success shayari,
kamyabi shayri,
कामयाबी शायरी,
जोशीली शायरी इन हिंदी,
बधाई सन्देश हिंदी,
shayari for success in hindi,
success shayri in hindi,
motivational shayari in hindi pdf file,
सफलता की बधाई संदेश इन हिंदी,

आँखों में मंजिलें बसी थीं थी
गिरे और सँभालते रहे
आँधियों में कहाँ दम था
चिराग हैं हवा में जलते रहे

कामयाबी के लिए शायरी

ख्वाब टूटे होंगे मगर हौंसले ज़िंदा है
हम तो वही है जहाँ मुश्किलें शर्मिंदा है

khaab tute honge magar hausale jinda hai
hum to wahi hai jahaan mushkile sharminda hai

देखते हैं ये जिंदगी हमें कहाँ तक भटकाएगी
किसी दिन जरूर हमारी कोशिशें रंग लाएंगी,
उस रोज हम आराम से बैठेंगे अपने घरों में
कामयाबी बाहर खड़ी दरवाजा खटखटाएगी

सफलता के सफ़र में मुश्किलें आएँगी

परेशानियाँ दिखाकर तुमको शायद डराएंगी

चलते रहना तुम्हारे कदम कही रुक ना जाएँ

अरे वो मंजिल ही तो है एक दिन मिल जाएगी

बादलों ने फिर साज़िश की है
जहाँ मेरा झोपड़ी थी वहीं बारिश की
फलक को जिद है बिजलियाँ गिराने को
हम भी आदततन मजबूर है आशियाँ फिर बनाने को

baadalo ne fir saajis ki hai
jahaan mera jhopadi thi wahi baarish ki
falak ko jid hai bijaliyaan giraane ko
hum bhi aadatan majboor hai aashiyaan fir banaane ko

बुलंद रखो हौसला मुठी में मुकाम होगा
मुश्किले होंगी और मुसीबत जिंदगी में आम होगा
ज़िंदा हो तो लहरो में तैरने से क्या घबराना
लहरो के साथ बहना तो लाशो का काम होगा

Leave a Comment

Your email address will not be published.