Poems in Hindi

Poems in Hindi, poem in hindi,hindi poetry,hindi kavita,poems in hindi,
hindi poems,poetry in hindi,hindi poem,hasya kavita in hindi, कविता,hasya kavita,kavita in hindi,funny hindi poems,funny kavita in hindi,poem hindi,new poems in 2020,new poems in 2021,Poems in Hindi kavita

Life Insurance Poem in hindi – जीवन बीमा कविता

जीवन बीमा कविता बिना Insurance जो इस संसार में बिना Insurance सो गया।अपने परिवार की लाचारी उनके Life में बो गया।। बो गया है लाचारी और Money की टेंशन।Insurance में इतना ताकत ना दे सके जो पेंशन।। पेंशन तो बुढ़ापा आने पर थामेगी आपका हाथ।समय से पहले गये तो Insurance बनेगा नाथ (God)।। Insurance बनेगा …

Life Insurance Poem in hindi – जीवन बीमा कविता Read More »

Nari Shringar Nazeer Akbarabadi | नारी श्रृंगार नज़ीर अकबराबादी

नारी श्रृंगार नज़ीर अकबराबादी मेंहदी-1तुमने हाथों में सनम जब से लगाई मेंहदी।रंग में हुस्न के फूली न समाई मेंहदी॥1॥किस तरह देखके दिल पर न क़यामत गुज़रे।एक तो हाथ ग़ज़ब जिस पै रचाई मेंहदी॥2॥दिल धड़कता है मेरा आज खु़दा खैर करे।देख करती है यह किस किससे लड़ाई मेंहदी॥3॥दिल तड़फता है मेरा जिससे कि मछली की तरह।इस …

Nari Shringar Nazeer Akbarabadi | नारी श्रृंगार नज़ीर अकबराबादी Read More »

New Hindi Poem on Nirbhaya rape victim-बलात्कार पर नयी कविता

औरतों की नींदों पे भी पहरेदारी होती हैकिसी ना किसी मर्द को इनके स्वप्नदोष की पूरी जानकारी होती है. तबले और शूद्र की तरह इनको भी बजाया जाएऔर तो और! इन्हे बस महावारी होती है. हम मर्द तो बस सेक्स करते हैंइन जोरुओं को ही बच्चे जनने की बीमारी होती है. वैसे तो और हर …

New Hindi Poem on Nirbhaya rape victim-बलात्कार पर नयी कविता Read More »

New Inspirational poem on Sushant Singh Rajput | सुशांत पर नयी कविता

अच्छा बताइए बेटे का अब भी बाप ही वाला धंधा है क्याअच्छा बताइए नेपोटिज्म आपके घर में भी जिंदा है क्याअच्छा बताइए गटर अब तक गंदा है क्याअजी छोड़िए अब सुशांत की बात क्या करेंसुशांत अभी भी किसी के लिए कोई मुद्दा है क्या? अच्छा आपकी उम्मीद कसूर वालों के लिए फांसी का फंदा है …

New Inspirational poem on Sushant Singh Rajput | सुशांत पर नयी कविता Read More »

Irshad kamil best poems in hindi | इरशाद कामिल की कविता

कवितायें दोस्त होती हैंकुछ साधारण कुछ गहरीकोई दिनों के लिए साथकोई दुनिया के लिएउम्र भर साथ चलने के लिएसिर्फ दो-चार… कवितायें प्रेमिकाएं होती हैंआठवीं की कला- दसवीं की आशाबारहवीं की शैली – चौदहवीं की शहनाज़समय की गर्द में दबे राज़खोलती हैं बंद लिफाफे सा मनफुर्सत के क्षण दो पंक्तियों के बीच फासले जितनेबहुत कम समय …

Irshad kamil best poems in hindi | इरशाद कामिल की कविता Read More »

New Hindi Poem on life- भगत सिंह पर नयी कविता

गोडसे से भगत सिंह पर गोली ना चलाई जाएगी। एक दिन तेरी खाक उछाली जाएगीया के फिर तुझ पर खाक डाली जाएगीवह बदन जिसके लिए तूने सब जतन किएगाड़ डाली या झोंक डाली जाएगी पगड़िया गर जो गिराई जाएंगीटोपीयां गर जो हटाई जाएंगीवह गांधी नहीं की हे राम कहे और गिर पड़ेगोडसे से भगत सिंह …

New Hindi Poem on life- भगत सिंह पर नयी कविता Read More »

New Hindi Poem on Indian Culture

गाय हमारीCOW बन गयी, शर्म हया अबWOW बन गयी, काढ़ा हमाराCHAI बन गया, छोरा बेचाराGUY बन गया , योग हमारा YOGA बन गया,घर का जोगी JOGA बन गया, भोजन 100 रु.PLATE बन गया,हमारा भारतGREAT बन गया.. घर की दीवारेँ WALL बन गयी,दुकानेँ SHOPING MALLबन गयीँ, गली मोहल्ला WARD बन गया,ऊपरवाला LORD बन गया, माँ हमारी …

New Hindi Poem on Indian Culture Read More »

Kids Poems in Hindi हिन्दी की बाल कविताएँ

Kids Poems in Hindi – हिन्दी की बाल कविताएँ Poems in Hindi for kids इस article में हमें आपके लिए कुछ हिन्दी की बाल कविताएँ इकट्ठी की है और प्रदर्शित किया है, टमाटर है बड़ा मज़ेदार,कहता है खुद को इज्जतदारहे टमाटर तुम बड़े मज़ेदार,आ टमाटर, ऊ टमाटर हे टमाटर तुम बड़े मज़ेदार,एक दिन तुमको चिड़िया …

Kids Poems in Hindi हिन्दी की बाल कविताएँ Read More »

Rabindranath Tagore Poems in Hindi on mother

जन्मकथा रवीन्द्रनाथ ठाकुर janm katha Rabindra nath Tagore ” बच्चे ने पूछा माँ से , मैं कहाँ से आया माँ ? “माँ ने कहा, ” तुम मेरे जीवन के हर पल के संगी साथी हो !”जब मैं स्वयं शिशु थी, खेलती थी गुडिया के संग , तब भी,और जब शिवजी की पूजा किया करती थी …

Rabindranath Tagore Poems in Hindi on mother Read More »

Motivational Poetry in hindi – inspirational poems in hindi

Motivational Poetry in hindi गिरना भी अच्छा है – अमिताभ बच्चन गिरना भी अच्छा है“गिरना भी अच्छा है,औकात का पता चलता है…बढ़ते हैं जब हाथ उठाने को…अपनों का पता चलता है! जिन्हे गुस्सा आता है,वो लोग सच्चे होते हैं,मैंने झूठों को अक्सरमुस्कुराते हुए देखा है… सीख रहा हूँ मैं भी,मनुष्यों को पढ़ने का हुनर,सुना है …

Motivational Poetry in hindi – inspirational poems in hindi Read More »