भरोसा शायरी ( Bharosa Shayari )

Bharosa Shayari

Namumkin Hai
ये ना-मुमकिन है, कोई मिल जाए तुम जैसा,
पर आसान तो ये भी नहीं ,तुम ढूँढ लो मेरे जैसा.

बड़े नादान हैं वो लोग जो इस दौर में भी वफ़ा की उम्मीद करते हैं
यहाँ तो दुआ क़बूल ना होने पर लोग भगवान बदल दिया करते हैं


एक तेरा जो शहर है सिर्फ पानी के लिए ख़ून बहा देता है
एक मेरा गाँव है, पानी ना मिले तो प्यास बुझा देता है

Advertisements

मोहब्बत क्या है तुम्हे दो लफ्ज़ो में बताते है,
तेरा मजबूर कर देना मेरा मजबूर हो जाना।

भरोसा शायरी


फिर से आ जाओ बेवफाई का तरकश लेकर,
मोहब्बत के जंग में मैं निहत्थे उतरा हूँ।

कुछ रूठे हुए लम्हें कुछ टूटे हुए रिश्ते..
हर कदम पर काँच बनकर जख्म देते हैं

bharosha 2 line shayari


प्यार गहरा हो या ना हो पर भरोसा पूरा होना चाहिये…

सच्ची मोहब्बत भी हम करते है,वफ़ा भी हम करते है,
तन्हा जीनेकी सजा भरते हैं पर भरोसा भी हम करते है

नसीब से ज्यादा भरोसा “पगली”तुम पर किया,
..पर नसीब इतना नहीं बदला जितना तुम बदल गयी…

Bharosa Shayari in hindi


बहुत ख़ामोशी से टूट गया वो एक भरोसा जो तुम पे था.!!!!

मुझे खामोश देखकर इतना हैरान क्यों होते हो यारो ….
कुछ नहीं हुवा है बस भरोसा कर के धोखा खाया है मैंने

Naseeb Se Zeyada

किसी पर इतना विश्वास रखो,
कि कोई उसे तोड़ ना पाए,
चाहे कोई कितनी भी कोशिश कर ले,
रिश्तों का कुछ उखाड़ ना पाए।

नसीब से ज्यादा भरोसा तुम पर किया,
फिर भी नसीब इतना,
नहीं बदला जितना तुम बदल गए।


नसीब से ज्यादा भरोसा किया था आप पर,
नसीब इतना नहीं बदला जितना तुम बदल गये !!

Zara Se Zingdagi


थोड़ी सी जिन्दगी में व्यवधान बहुत हैं,
तमाशा देखने को यहाँ इन्सान बहुत हैं !!
कोई भी नहीं बताता, सही रास्ता यहाँ,
समझदार इस शहर में, ‘नादान’ बहुत हैं !!

Bharosa Shayari

न करना भरोसा भूल कर भी किसी पे,
यहाँ हर गली में साहब बेईमान बहुत हैं !!

दौड़तेे फिरते हैं लोग , न जाने क्या पाने को,
लगे रहते है जुगाड़ में, परेशान बहुत हैं !!
खुद ही बनाते हैं हम, मुश्किल जिंदगी को,
वर्ना तो जीने के नुस्खे, आसान बहुत हैं !!

बर्फ जैसा है समय , पहले पानी होने दो ,
दिल मुश्किल में है आसानी होने दो ,,
अभी मिले हो भरोसा कर लूं कैसे ,
कुछ तो पहचान पुरानी होने दो ,,

bharosa shayari hindi


खुद में काबिलियत हो तो भरोसा कीजिये साहिब।
सहारे कितने भी अच्छे हो साथ छोड जाते है…

Bharosa Khud Pe

भरोसा खुद पर रखो तो ताकत बन जाती है,
और दूसरों पर रखो तो कमजोरी बन कहलाती है


निगाहों में अभी तक दूसरा कोई चेहरा नहीं आया
भरोसा ही कुछ ऐसा था तुम्हारे लौट आने का


भरोसा मत करना इस दुनिया के लोगो पर।
मुझे तबाह करने वाले मेरे बहुत अजीज थे ।।

लोगों के पास बहुत कुछ है,
मगर दिक्कत यही है कि,
भरोसे पे शक है और,
अपने शक पे भरोसा है।

Bharosa Shayari in hindi

जब जब भरोसा किया है मैंने ,
तब तब भरोसा टूटा है मेरा,
अब तो किसी पर भरोसा करने का,
मन ही नही करता है मेरा।

हम समझदार भी इतने हैं,
के उनका झूठ पकड़ लेते है,
और उनके दिवाने भी इतने,
के फिर भी यकीन कर लेते हैं।

जब कोई आपसे अपनी,
हर बात शेयर करने लगता है,
तो समझ जाना की वो आप पर,
खुद से ज़्यादा भरोसा करता है।

मैंने तुम पर भरोसा किया,
पर तुमने मुझे धोखा दिया,
अब किसी और पे ना भरोसा होगा,
और ना किसी से दोबारा प्यार होगा।

जो चाहे वो पा लेता है इंसान,
विश्वास में इतना दम होता है,
जो इंसान को ईश्वर देता है,
वो कभी भी कम नहीं होता हैं।

जानकार उनको है इस बात को जाना हमने,
किस कदर पलटते हैं,
यह खुद को दोस्त कहने वाले।

bharosa status in hindi

प्यार में तो बस भरोसा होना चाहिए,
सक तो पूरी दुनिया करती हैं।

विश्वास जीतना बड़ी बात नहीं है,
भरोसा बनाए रखना बड़ी बात है।

bharosa status in hindi

आप जिस पर आँख बंद करके भरोसा करते हैं,
अक्सर वही आप की आँखें खोल जाते है।

जिस से हर उम्मीद हो, और वही दिल दुखा दे,
तो पूरी दुनिया से ही भरोसा उठ जाता है।

भरोसा खुद पर रखो तो ताकत बन जाती है,
और दूसरों पर रखो तो कमजोरी बन जाती है।

सब कुछ टूट जाये पर,वह भरोसा न टूटे ,
जो आप ने किसी पर, अपनी आप से भी ज़्यादा किया हो।

खा करो नजदीकियां,ज़िन्दगी का कुछ भरोसा नहीं,
फिर मत कहना चले भी गए,और बताया भी नहीं

वक्त के क्रूर छल का भरोसा नहीं,आज जी लो कि कल का भरोसा नहीं,
दे रहे हैं वो अगले जन्म की खबर, जिनको अगले ही पल का भरोसा नहीं।।

तुम्हारी किस्मत का लिखा,तुमसे कोई छीन नहीं सकता,
भरोसा हो रब पर तो तुम्हें वो भी मिलेगा,जो कभी तुम्हारा हो नहीं सकता।

मेरा भरोसा ऐसे ही नहीं टुटा
मैंने देखा है तुझे गैरो की बाहों में,
दिल लगाते हुए।

भरोसा तो अपनी साँसों का भी नहीं,
और हम इंसान पर कर बैठे है।

गलत इसान पर भरोसा करने के बाद ही,
सही इंसान को पहचानने की समझ आती है।